Hindi Grammar

मुहावरा और लोकोक्ति में अंतर बताइए?

मुहावरा और लोकोक्ति में अंतर: मुहावरा लोकोक्ति (a) मुहावरे वाक्यांश होते हैं। ( (a) लोकोक्ति पूर्णवाक्य होती हैं। (b) मुहावरे लिंग, वचन और क्रिया के अनुसार परिवर्तित होते हैं। (b) लोकोक्ति का प्रयोग पूरे के रूप में किया जाता है। (c) मुहावरे लाक्षणिक अर्थ प्रदान करते हैं। उदाहरण- दारोगा को देखते ही चोरों की नानी …

मुहावरा और लोकोक्ति में अंतर बताइए? Read More »

उपसर्ग और प्रत्यय में क्या अंतर है?

उपसर्ग और प्रत्यय में अंतर: उपसर्ग प्रत्यय (a) उपसर्ग शब्दारंभ में जुड़ता है। (a) प्रत्यय शब्दांत में जुड़ता है। (b) उपसर्ग जुड़ने पर मूल शब्द का अर्थ बदल सकता है।उदाहरण- प्र + चार= प्रचार इसमें प्र उपसर्ग है, जो चार शब्द के पहले जुड़ा है। (b) प्रत्यय जुड़ने पर अर्थ मूल शब्द के इर्द-गिर्द ही …

उपसर्ग और प्रत्यय में क्या अंतर है? Read More »

पदबंध और उपवाक्य में क्या अंतर है?

पदबंध और उपवाक्य में अंतर: पदबंध उपवाक्य (a) पदबंध में पूरा भाव प्रकट नहीं होता हैं। (a) उपवाक्य में आंशिक भाव प्रकट होता है। (b) इसमें उद्देश्य-विधेय आदि नहीं होते यानी वाक्य के सभी अंग नहीं होते हैं। (b) इसमें उद्देश्य एवं विधेय दोनों होते हैं।

कर्मधारय और बहुव्रीहि समास में अंतर बताइए?

कर्मधारय और बहुव्रीहि समास में अंतर: कर्मधारय समास बहुव्रीहि समास (a) कर्मधारय समास का पहला या दूसरा खंड विशेषण या विशेष्य अथवा दोनों होता है। (a) बहुव्रीहि समास में दोनों खंडों में परस्पर विशेषण-विशेष्य का भाव नहीं होता। (b) इसमें उत्तर पद की प्रधानता होती है। (b) इसका अन्य तीसरा पद प्रधान होता है। (c) …

कर्मधारय और बहुव्रीहि समास में अंतर बताइए? Read More »

संधि और समास में अंतर बताइए?

संधि और समास में अंतर: संधि समास (a) संधि में दो वर्ण मिलते है। (a) समास में दो पद मिलते है। (b) संधि विच्छेद में ‘+’ चिह्न दिया जाता है। (b) समास-विग्रह में ‘+’चिह्न नहीं होता है। (c) संधि में मुख्यतः तीन भेद हैं। (c) समास के मुख्यतः चार भेद हैं। (d) संधि का शाब्दिक …

संधि और समास में अंतर बताइए? Read More »

संधि और संयोग में क्या अंतर है?

संधि और संयोग में अंतर: संधि संयोग (a) संधि में उच्चारण के नियमानुसार एक या दोनों वर्णो में परिवर्तन हो जाता है और कभी-कभी उनकी जगह उनसे भिन्न कोई अन्य वर्ण आ जाता है। (a) संयोग में हलन्त क् से ह् तक के वर्ण अगले स्वर या व्यंजन में बिना बदले केवल मिल जाते हैं। …

संधि और संयोग में क्या अंतर है? Read More »

कर्तृवाच्य और कर्मवाच्य में क्या अंतर है?

कर्तृवाच्य और कर्मवाच्य में अंतर: कर्तृवाच्य कर्मवाच्य (a) कर्तृवाच्य में कर्ता की प्रधानता होती है। (a) कर्मवाच्य में कर्म प्रधान और कर्त्ता गौण रहता है। (b) कर्तृवाच्य की क्रिया सदैव कर्त्ता के लिंग, वचन और पुरुष के अनुसार होती है। (b) कर्मवाच्य की क्रिया का रूप कर्म के लिंग, वचन और पुरुष के अनुसार होता …

कर्तृवाच्य और कर्मवाच्य में क्या अंतर है? Read More »

सकर्मक क्रिया और सकर्मक क्रिया में क्या अंतर है

सकर्मक क्रिया और सकर्मक क्रिया में अंतर: अकर्मक क्रिया सकर्मक क्रिया (a) अकर्मक क्रिया वाक्य में अपने साथ कर्म नहीं लाती है। (a) सकर्मक क्रिया वाक्य में अपने साथ कर्म निश्चित रूप से लाती है। (b) अकर्मक क्रिया का प्रयोग कर्तृवाच्य एवं भाववाच्य में होता हैं।उदाहरण- आम फलता है। इस वाक्य में कर्म नहीं है। (b) सकर्मक …

सकर्मक क्रिया और सकर्मक क्रिया में क्या अंतर है Read More »

विशेषण और विशेष्य में क्या अंतर है?

विशेषण और विशेष्य में अंतर: विशेषण विशेष्य (a) संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता, संख्या, परिमाण आदि बतानेवाला विशेषण होता है। (a) विशेषण जिसकी विशेषता, संख्या, परिमाण आदि बताता है, वह विशेष्य होता हैं। (b) विशेषण सीमित होते हैं। (प्रचलन में)।उदाहरण- काला, पाँचवा, कुछ आदि। (b) विशेषणों की अपेक्षा विशेष्यों की संख्या अनंत होती है।उदाहरण- गाय, …

विशेषण और विशेष्य में क्या अंतर है? Read More »

कृदन्त और तद्धितांत में क्या अंतर है?

कृदन्त और तद्धितांत में अंतर: कृदन्त तद्धितांत (a) क्रिया या धातु में प्रत्यय लगाने से बने शब्द कृदन्त होते हैं। (a) क्रिया-भिन्न शब्दों में प्रत्यय लगाने से बने शब्द तद्धितांत होते हैं। (b) कृदन्त शब्द क्रिया के अतिरिक्त विशेषण आदि भी हो सकते हैं।उदाहरण- खा + ता= खाताखाना + वाला= खानेवाला (b) तद्धितांतशब्द क्रियावाचक कम …

कृदन्त और तद्धितांत में क्या अंतर है? Read More »

संज्ञा और सर्वनाम में अंतर बताइए?

संज्ञा और सर्वनाम में अंतर: संज्ञा सर्वनाम (a) संज्ञा वस्तु, व्यक्ति, स्थान, भाव आदि के नाम को कहते हैं। (a) सर्वनाम संज्ञा के स्थान पर आनेवाला शब्द होता है। (b) संज्ञाएँ अनंत होती है। (b) सर्वनाम सीमित होते हैं। (c) संज्ञाओं का अपना लिंग होता है।उदाहरण- गंगा, क्षमा, ताजमहल, पुस्तक, मेला, लोहा आदि। (c) सर्वनामों …

संज्ञा और सर्वनाम में अंतर बताइए? Read More »

विकारी शब्द और अविकारी शब्द में क्या अंतर है?

विकारी शब्द और अविकारी शब्द में अंतर: विकारी शब्द अविकारी शब्द (a) विकारी शब्द, लिंग, वचन, पुरुष, कारक, काल आदि से रूपांतरित होते रहते हैं। इसके अंतर्गत संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण और क्रिया आते हैं।उदाहरण- लड़का जाता है।लड़की जाती है।दोनों पद विकारी हैं। (a) अविकारी शब्द कभी और किसी परिस्थिति में अपने रूप को नहीं बदलते …

विकारी शब्द और अविकारी शब्द में क्या अंतर है? Read More »