अविकारी शब्द (अव्यय) किसे कहते हैं

शब्द किसे कहते हैं, प्रकार, उदहारण – Shabd Kise Kehte Hain

शब्द किसे कहते हैं – Shabd Kise Kehte Hain:

एक या अधिक वर्णो के मेल से बनी सार्थक ध्वनि को शब्द कहा जाता है।

शब्द के प्रकार – Shabd ke Prakar :
स्त्रोत या इतिहास के आधार पर
1. तत्सम:– जो शब्द संस्कृत से हिन्दी में ज्यो के त्यों अर्थात बिना परिवर्तन के ले लिए गए है

जैसे- अग्नि, पृथ्वी, रात्रि

यह भी पढ़े: वाक्य की परिभाषा, भेद, उदाहरण

2. तद्भवः– तत्सम (संस्कृत) के वे शब्द है जो कुछ बिगड़ कर हिन्दी में प्रचलित हो गए है

जैसे :– हस्त से ‘हाथ’, कर्ण से ‘कान’

3. देशी:– जो शब्द स्थानीय भाषाओं में से हिन्दी में प्रयुक्त होते है

जैसे- रोड़ा, बैंगन, सेब

4. संकर:– दो भाषाओं के मेल से बने शब्द संकर कहलाते है

जैसे

खून + पसीना             बे + डौल

फारसी + हिन्दी          जेल + खाना

टिकट + घर             अग्रेजी + हिन्दी

यह भी पढ़े: अलंकार की परिभाषा, प्रकार, उदाहरण

5. विदेशी:– वे शब्द जो विदेशी भाषाओं से हिन्दी में आए है।

अरबी के शब्द:– अखबार, आदत, आखिर, अमीर, ईनाम, ईमान, उम्र, औरत, कसूर, कसरत, कानून, किताब,

खबर, खराब, जनाब, जलिम, तहसील, तकदीर, तबादला, नशा, फायदा, मुल्ला, मजहब, मतलब, हकीम, शराब

फारसी के शब्द:– अदा, अगर, आमदनी, आईना, आवाज, आसमान, कमीना, कारीगर, किशमिश, खुश, गवाह, चादर, चश्मा, चेहरा, जिगर, जोश, दफ्तर, दवा, दीवार, दिलेर, दलाल, पाजामा, परहेज, बेकार, बेरहम, मजदूर, सरदार, सौदागर, साहब

यह भी पढ़े: उपसर्ग की परिभाषा, भेद, उदाहरण

तुर्की के शब्द:– तोप, तमाशा, कैंची, खंजर, चेचक, चम्मच, बेगम, बारुद, बहादुर, मुगल, दरोगा, सराय, बीबी, लाश, उर्दू

अंग्रेजी के शब्द:– अफसर, अपील, कमेटी, कलक्टर, गिलास, अस्पताल, गैस, टिकट, कुली, लालटेन, पुलिस, रजिस्टर

फ्रेंच के शब्द:– लैम्प, मेयर, आलपिन, सूप, पिकनिक, कारतूस, कूपन, मीनू, अंग्रेज

जापानी के शब्द:– रिक्शा

 चीनी के शब्द:– चाय, लीची, चीनी 

पुर्तगाली :- अलमारी, इस्तरी, इस्पात, कनस्तर, कप्तान, गोदाम, नीलम, पादरी, फीता, गमला, संतरा, चाबी,

तौलिया, बाल्टी, साबुन

यह भी पढ़े: संज्ञा किसे कहते हैं, लिंग, वचन, कारक

व्युत्पति (रचना या बनावट) के आधार पर शब्द के भेद:

1. रुढ़ :- जो अन्य शब्दो के योग से न बने हों

जैसे – कमल, घोड़ा, जल

2. यौगिक :– जो दो शब्दो मे योग से बनते है

जैसे – पाठशाला = पाठ+शाला, विद्यालय = विद्याा+आलय

3. योगरुढ़ :– जो शब्द दो या दो से अधिक शब्दों के योग से बने हों तथा किसी विशेष अर्थ को प्रकट करते हों

उन्हे योगरुढ़ शब्द कहते है।

जैसे– दशानन, लम्बोदर

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *