RBSE Solutions for Class 9 English Insight Chapter 14 Literary Terms

हेलो स्टूडेंट्स, यहां हमने राजस्थान बोर्ड Class 9 English Insight Chapter 14 Literary Terms सॉल्यूशंस को दिया हैं। यह solutions स्टूडेंट के परीक्षा में बहुत सहायक होंगे | Student RBSE solutions for Class 9 English Insight Chapter 14 Literary Terms pdf Download करे| RBSE solutions for Class 9 English Insight Chapter 14 Literary Terms notes will help you.

Rajasthan Board RBSE Class 9 English Insight Chapter 14 Literary Terms

1. Verse : Compositions written in metre (fixed arrangement of accented and unaccented syllables) are known as verse.
छन्दबद्ध रचनाओं को verse (पद्य) कहा जाता है। स्वराघातयुक्त एवं स्वराघातहीन अक्षरों के नियत व्यवस्थापन को छन्द (metre) कहते हैं।

2. Fiction : Fiction is any narrative which is feigned rather than factual. In most present day discussions, however, the term ‘fiction’ is applied primarily to the novel and the short story, and is sometimes used simply as a synonym for the novel. Ferruifera (fiction)
उस वृत्तान्त को कहा जाता है जो तथ्यपरक न होकर कल्पित होती है। वर्तमान परिप्रेक्ष्य में ‘fiction’ शब्द प्राथमिक रूप से उपन्यास और लघु कथाओं के लिए प्रयुक्त होता है, और कभी-कभी तो इसे उपन्यास का ही समानार्थी मानकर प्रयुक्त किया जाता है।

3. Metaphor : A Metaphor is a phrase which describes one thing by stating another thing with which it can be compared without using the words ‘as’ or ‘like’. Some examples of metaphors :

रूपक अलंकार (metaphor) में एक वस्तु का दूसरी वस्तु के साथ इस प्रकारे वर्णन किया जाता है कि ‘as’ या like’ के प्रयोग के बिना ही तुलना का भाव उत्पन्न हो | सके। अर्थात् रूपक में उपमा की तरह यह व्यक्त नहीं। किया जाता कि एक वस्तु दूसरी वस्तु के समान या सदृश है, बल्कि यह कहा जाता है कि मानों दोनों वस्तुएँ एक ही हैं। रूपक अलंकार के कुछ उदाहरण हैं :

“All the world’s a stage, and all the men and women merely players.”
-William Shakespeare
“Fill your paper with the breathing’s of your heart.” – William Wordsworth
‘Miles to go’ is a metaphor for continuing journey of life, and ‘sleep’ is a metaphor of death. Calling a person a “night owl” or an “early bird” or saying “life is a journey’ are common conventional metaphors.
‘Miles to go’ जीवन की निरन्तर यात्रा का रूपक है और ‘sleep मृत्यु का रूपक है। किसी व्यक्ति को ‘night owl’ या early bird’ कहना या life is a journey कहना, ये सब सामान्य परम्परागत रूपक हैं।

4. Simile : Simile (pronounced sim-uh-lee) is a popular literary term that uses “like” or “as” to compare two things. A simile is different from a simple comparison in that it usually compares two different things. As “She looks like you” is a comparison but not a Simile. On the other hand, “She smiles like the sun” is a Simile, as it compares a woman with the sun. Similes describe subjects in unique and thought provoking ways by finding similarities in typically different things.

उपमा (simile सिमॅलि) एक लोकप्रिय साहित्यिक विधा है। जिसमें दो वस्तुओं की तुलना के लिए like’ या as’ का प्रयोग किया जाता है। उपमा एक सामान्य तुलना से इसलिए भिन्न होती है क्योंकि इसमें सामान्यतः दो भिन्न वस्तुओं की तुलना की जाती है। उदाहरण के लिए ‘She looks like you’ एक तुलना है न कि उपमा। जबकि दूसरी ओर ‘She smiles like the sun’ एक उपमा है, क्योंकि यह एक स्त्री की तुलना सूर्य से करती है। उपमाएँ लाक्षणिक रूप से भिन्न वस्तुओं में विचारोत्पादक ढंग से समानताएँ तलाश कर विषय वस्तु को अद्वितीय ढंग से वर्णित करती हैं। उदाहरण के लिए, एक दुबली स्त्री के वर्णन पर विचार कीजिए

  1. She’s as thin as a rail ! (वह छड़ के समान पतली है!)
  2. My love for you is as deep as the sea. (तुम्हारे लिए मेरा प्यार सागर के समान गहरा है।)

5. Alliteration : The word alliteration comes from the Latin word latira, meaning “letters of the alphabet.” Alliteration is the repetition of a certain sound at the beginning of successive words or phrases. It often involves repetition of letters, most importantly; it is a repetition of sounds. It is used to create rhythm through repetition and to evoke emotion through connotations attached to certain sounds. Here are a few examples of alliteration : the alliteration that repeats the ‘s’ and ‘l’ sounds : alliteration

शब्द लेटिन शब्द latira से उद्भूत हुआ है। जिसका अर्थ ‘वर्णमाला के अक्षर’ होता है। अनुप्रास शब्दों या वाक्यांशों के प्रारम्भ में एक निश्चित ध्वनि की पुनरावृत्ति को कहते हैं। इसमें अक्सर अक्षरों की पुनरावृत्ति होती है, मुख्यतः इसमें ध्वनि की पुनरावृत्ति होती है। अनुप्रास को प्रयोग पुनरावृत्ति के माध्यम से लय उत्पन्न करने के लिए और विविध ध्वनियों के साथ जुड़े गुण व अर्थों के माध्यम से भाव उत्पन्न करने के लिए किया जाता है। यहाँ अनुप्रास के कुछ उदाहरण दिये गये हैं, इन अनुप्रासों में ‘s’ और ‘1’, ‘p’, ‘b’ ध्वनियों की पुनरावृत्ति है

  1. Sally sells seashells by the seashore.
  2. Peter Piper Picked a Peck of Pickled Peppers.
  3. Bret brought bundles of bread to the bakery.

6. Onomatopoeia : Sometimes the sound of words gives great support to the sense. The phrase “cool moonlight” with its long vowels and two 1-sounds certainly sound very restful. “This tendency in words to echo meaning by the actual sound is called onomatopoeia.” (Marjorie Boulton). It is found in an almost pure form in many of the words describing sounds, such as buzz, fizz, crash, bang, thump, miaow, quack, giggle, sizzle, hiss, sneeze, thud and snort. Onomatopoeia is very common in poetry. It is used to create artistic effect.

Onomatopoeia (ध्वन्यानुकरण)- कभी-कभी शब्दों की ध्वनियाँ अर्थ को अत्यधिक समर्थन देती हैं। वाक्यांश जैसे ‘cool moonlight’ में लम्बे स्वर एवं दो / ध्वनियाँ निश्चित रूप से बहुत ही सुखप्रद रूप से ध्वनित होती हैं। “शब्दों की वास्तविक ध्वनि से अर्थ को प्रतिध्वनित करने की प्रवृत्ति को onomatopoeia कहा जाता है।” (Marijorie Boulton)। ध्वनि का वर्णन करने वाले अनेक शब्दों में यह लगभग शुद्ध रूप में पाया जाता है, जैसे-buzz, fizz, crash, bang, thump, miaow, quack, giggle, sizzle, hiss, sneeze, thud और snort. Onomatopoeia पद्य में सामान्यतः प्रयुक्त होता है। इसका प्रयोग कलात्मक प्रभाव उत्पन्न करता है।
Other examples of Onomatopoeia (Onomatopoeia के अन्य उदाहरण) :

  • The snakes hiss.
  • The cats mew.
  • Cuckoos coo.
  • Bees are buzzing.

7. Drama : Drama is a form of literature intended to be performed before an audience in a theater or on radio and television. It has a plot, characters, dialogues, an atmosphere and an outlook on life. Its full qualities are only revealed in presentation on the stage.

नाटक (Drama) साहित्य की एक ऐसी विधा है जिसे रंगमंच या रेडियो और टेलीविजन पर दर्शकों के समक्ष प्रस्तुत करने के उद्देश्य से रचा जाता है। नाटक में कथानक, पात्र, संवाद, वातावरण एवं जीवन के प्रति एक दृष्टिकोण होता है। इसकी सम्पूर्ण विशेषताएँ केवल रंगमंच पर प्रस्तुति के माध्यम से ही प्रकट हो सकती हैं।

8. Lyric : The term lyric was originally derived from the Greek word ‘lyrikos’ meaning a poem to be sung to the lyre. It now includes any poem that is short, simple, and subjective, and expresses a single thought. Lyric
(गीत) शब्द मूलतः ग्रीक शब्द lyrikos’ से उत्पन्न हुआ है इसका अर्थ है-वीणा पर गायी जाने वाली कविता। वर्तमान में lyric में ऐसी कोई भी कविता शामिले की जाती है जो छोटी हो, सरल हो, व्यक्तिनिष्ठ हो और एक एकल विचार को व्यक्त करती हो।

9. Essay : The term essay refers to a discussion in prose of a certain topic. An essay may be classified as formal or informal, depending on its subject and style. The formal essay is characterized by qualities of dignity, serious purpose and logical organization. În the informal essays the author assumes a tone of intimacy, such as Bacon’s periodical essays, and the essays of Addison and Lamb. Among the qualities that mark an essay as informal are: humour, graceful style, a personal element, unconventionality or novelty of theme, and freedom from stiffness and affectation.

निबन्ध (Essay) शब्द किसी निश्चित विषय पर गद्य में हुए विचारविमर्श को सन्दर्भित करता है। निबन्ध को विषय वस्तु एवं शैली के आधार पर औपचारिक (formal) या अनौपचारिक (informal) में विभाजित किया जा सकता है। औपचारिक निबन्ध गरिमा, गम्भीर उद्देश्य और तार्किक संगठन की विशेषताओं से युक्त होता है। अनौपचारिक निबन्धों में लेखक’ अन्तरंगता के स्वर में बातें करता है, जैसे कि बेकने के नियतकालिक (periodical) निबन्ध, और एडिशन और लैम्ब के निबन्ध। जिन विशेषताओं के कारण किसी निबन्ध को अनौपचारिक माना जाता है वे हैं-हास्य (humour), सुन्दर शैली (graceful style), व्यक्तिगत तत्त्व (personal element), विषयवस्तु की अपरम्परागतता या उदात्तता, और शुष्कता एवं कृत्रिमता से मुक्ति।

All Chapter RBSE Solutions For Class 9 English Hindi Medium

All Subject RBSE Solutions For Class 9 Hindi Medium

Remark:

हम उम्मीद रखते है कि यह RBSE Class 9 English Solutions in Hindi आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है |

यदि इन solutions से आपको हेल्प मिली हो तो आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर कर सकते है और HindiLearning.in को सोशल मीडिया में शेयर कर सकते है, जिससे हमारा मोटिवेशन बढ़ेगा और हम आप लोगो के लिए ऐसे ही और मैटेरियल अपलोड कर पाएंगे |

आपके भविष्य के लिए शुभकामनाएं!!

Leave a Comment

Your email address will not be published.