Class 10 Science

Jati Udbhavan Kya Hai | जाति उद्भव | जाति उद्भव का कारण | उपार्जित लक्षण | आनुवंशिक लक्षण 

Jati Udbhavan Kya Hai उपार्जित लक्षण किसे कहते हैं: वह लक्षण जो की जीव अपने पुरे जीवनकाल में प्राप्त करते है उपार्जित लक्षण कहलाते है। उदाहरण = भृंगों के शरीर के भार में कमी। उपार्जित लक्षण के गुण: 1. उपार्जित लक्षण जीव अपने पुरे जीवनकाल में प्राप्त करते है। 2. उपार्जित लक्षण जनन कोशिकाओं के …

Jati Udbhavan Kya Hai | जाति उद्भव | जाति उद्भव का कारण | उपार्जित लक्षण | आनुवंशिक लक्षण  Read More »

Electricity in Hindi – Class 10 Science Chapter 12 Solution

यह Solutions For Class 10 Science Chapter 12 हिंदी माध्यम वाले स्टूडेंट्स के लिए है | इन सलूशन को ncert solutions for class 10 science chapter 12 , up board class 10 science chapter 12 के है | हमने इन नोट्स में आपको प्रत्येक प्रश्न का आंसर विस्तार से दिया है जिससे आप को आसानी से समझ आ जाये …

Electricity in Hindi – Class 10 Science Chapter 12 Solution Read More »

Rasayanik Sutra

Rasayanik Sutra | रासायनिक सूत्र लिस्ट इन हिंदी | Download

Rasayanik Sutra: इस पोस्ट में आपको रसायन विज्ञान के सभी सूत्रों के बारे में बताया गया है | जो की सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में पूछे जाने वाले सूत्र है | इस लिस्ट से आपको इन प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में बहुत सहायता मिलेगी | Rasayanik Sutra # साधारण नमक का रासायनिक सूत्र क्या हैं NaCl# बेकिंग …

Rasayanik Sutra | रासायनिक सूत्र लिस्ट इन हिंदी | Download Read More »

दुनिया का सबसे छोटा पक्षी कौन सा है | Smallest Bird in the World in Hindi

प्रश्न : सबसे छोटा पक्षी निम्न में से कौन-सा है?(अ) कबूतर (ब) तोता(स) गुंजन पक्षी (द) घरेलू गौरैयाS.S.C.  संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2011उत्तर-(स)सबसे छोटा पक्षी गुंजन पक्षी (Humming Bird) है। वर्तमान में 5 सेमी. आकार की बी-हमिंग बर्ड (Bee Humming Bird) संसार की सबसे छोटी चिड़िया या पक्षी है जो कि क्यूबा में पाई …

दुनिया का सबसे छोटा पक्षी कौन सा है | Smallest Bird in the World in Hindi Read More »

लौह की कमी से होने वाला रोग क्या है ? | Disease Due to Iron Deficiency in Hindi

Disease Due to Iron Deficiency in Hindi लौह की कमी से कौन-सा रोग होता है ?(अ) पोलियो (ब) रिकेट्स(स) स्कर्वी (द) गॉयटरS.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2014उत्तर-(द)लौह की कमी से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से थायराइड ग्रंथि की क्रिया प्रभावित होती है। शरीर में लौह की कमी रक्तक्षीणता या अरक्तता के अतिरिक्त गॉयटर के …

लौह की कमी से होने वाला रोग क्या है ? | Disease Due to Iron Deficiency in Hindi Read More »

प्रतिरोधक, सुचालक तथा अवरोधक | प्रतिरोधकता का कारण , कुचालक तथा अवरोधक 

प्रतिरोधकता किसे कहते हैं एक समान मोटाई वाले किसी भी चालक का प्रतिरोध उसकी लम्बाई (l) के समानुपाती होता है तथा उसके अनुप्रस्थ काट के क्षेत्रफल (A) के व्युत्क्रमानुपाती होता है। तथा R∝1/A ——(2) समीकरण (1) तथा (2) से जहाँ ρ एक स्थिरांक है जिसे चालक के पदार्थ की विधुत प्रतिरोधकता कहते हैं। समीकरण (iii) …

प्रतिरोधक, सुचालक तथा अवरोधक | प्रतिरोधकता का कारण , कुचालक तथा अवरोधक  Read More »

श्रेणीक्रम में संयोजित प्रतिरोधकों | पार्श्वक्रम में संयोजन | Combination of Resistance in Hindi 

Combination of Resistance in Hindi: जब किसी विधुत परिपथ में विद्युत जब किसी विधुत परिपथ में विद्युत उपकरणों या अवयवों को श्रेणीक्रम में जोड़ा जाता है तो 1. विधुत परिपथ के सभी अवयवों में विधुत धारा का प्रवाह समान रहता है। 2. . विधुत परिपथ के सभी अवयवों में वोल्टेज विभक्त हो जाता है। उदाहरण: …

श्रेणीक्रम में संयोजित प्रतिरोधकों | पार्श्वक्रम में संयोजन | Combination of Resistance in Hindi  Read More »

प्रतिरोध श्रेणी तथा पार्श्वक्रम में संयोजन | Series and Parallel Combination of Resistance in Hindi

प्रतिरोध श्रेणी तथा पार्श्वक्रम में संयोजन: मान लिया कि प्रतिरोधक R1, R2 तथा R3 को पार्श्वक्रम में संयोजित किया जाता है। मान लिया कि परिपथ का कुल तुल्य प्रतिरोध =R है। प्रतिरोधकों के पार्श्वक्रम में संयोजन के नियमानुसार प्रतिरोधकों के पार्श्वक्रम में संयोजन विधुत परिपथ का कुल विभवांतर =V विधुत परिपथ के दोनों सिरों के …

प्रतिरोध श्रेणी तथा पार्श्वक्रम में संयोजन | Series and Parallel Combination of Resistance in Hindi Read More »

जूल का तापन नियम | Joule’s Law of Heating in Hindi

किसी भी विधुत उर्जा का उपयोग किसी उपकरण में सीधे तौर पर नहीं किया जा सकता है, बल्कि विधुत उर्जा को यांत्रिकी उर्जा या प्रकाश उर्जा या उष्मा उर्जा में परिवर्तित किया जाता है उसके बाद ही विधुत उर्जा का उपयोग किया जाता है। विधुत उर्जा का उष्मा उर्जा में परिवर्तन ही विधुत का तापीय …

जूल का तापन नियम | Joule’s Law of Heating in Hindi Read More »

शक्ति | शक्ति की SI मात्रक | Electric power in hindi | विद्युत शक्ति किसे कहते हैं

शक्ति किसे कहते हैं: कार्य करने की दर को शक्ति कहते हैं। उसी प्रकार उर्जा के उपयोग में होने की दर को भी शक्ति कहते हैं। शक्ति = किया गया कार्य / समय माना कि t समय में होने वाला कार्य W है। शक्ति की SI मात्रक: शक्ति का SI मात्रक वाट है। वाट को …

शक्ति | शक्ति की SI मात्रक | Electric power in hindi | विद्युत शक्ति किसे कहते हैं Read More »

फ्रलेमिंग का वामहस्त (बायाँ हाथ) नियम | Fleming Left Hand Rule in Hindi | विधुत मोटर की कार्यविधि 

चुंबकीय क्षेत्र में किसी विद्युत धारावाही चालक पर बल  किसी भी चालक में प्रवाहित विद्युत धारा चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न करती है। इस प्रकार उत्पन्न चुंबकीय क्षेत्र इस चालक के निकट रखी किसी चुंबक पर कोई बल आरोपित करता है। फ्रांसीसी वैज्ञानिक आंद्रे मैरी ऐम्पियर (1775-1836) ने यह बताया की चुंबक को भी विद्युत धारावाही चालक …

फ्रलेमिंग का वामहस्त (बायाँ हाथ) नियम | Fleming Left Hand Rule in Hindi | विधुत मोटर की कार्यविधि  Read More »

चुम्बकीय क्षेत्र और क्षेत्र रेखाएँ | Magnetic Field and Magnetic Field Lines In Hindi

जब किसी चालक में विधुत धारा प्रवाहित होती है तो उसके पास चुम्बकीय सूई को ले जाने पर तो चुम्बकीय सूई विक्षेपित हो जाती है ऐसा इसलिये होता है क्योकि चालक से प्रवाहित हो रही विद्युत धारा के कारण चालक के चारो तरफ चुम्बकीय क्षेत्र उत्पन्न होता है। इसे विद्युत धारा का चुम्बकीय प्रभाव कहा …

चुम्बकीय क्षेत्र और क्षेत्र रेखाएँ | Magnetic Field and Magnetic Field Lines In Hindi Read More »