Journalism Me Career Kaise Banaye

जर्नलिस्ट कैसे बने | Journalism Me Career Kaise Banaye

Journalism Me Career Kaise Banaye: Journalist बनने के लिए, कुछ विशेष योग्यताओं  के साथ, आपको journalism की डिग्री की आवश्यकता होती है। इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए डिग्री होना बहुत जरूरी है। यह डिग्री आप किसी नामी कंपनी से प्राप्त कर सकते हैं। Graduation के बाद media house में internship के लिए apply करें।

internship के लिए apply करते समय उस media house के बारे में पूरी तरह से Research करें। अपने प्रशिक्षण के दौरान अपने काम को पूरी प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत के साथ करें ताकि परिणामस्वरूप आपको internship पूरी करने के बाद वही नौकरी की पेशकश की जा सके।

Journalism Me Career Kaise Banaye

आजकल Internship Offline और online दोनों तरह से की जाती है। लेकिन Internship करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप जिस तरह की जर्नल पढ़ रहे हैं वह भी Internship ही हो। ज्यादातर लोग print media की पढ़ाई करने के बाद online media में Internship करते हैं।

Career Scope in Journalism in Hindi

दोस्तों journalist bnane k lie eligibility और journalism skills के बारे में बात करने से पहले हम आपको बताना चाहेंगे कि Scope in Journalism in India क्या है… Journalism as a career scope ठीक है या नहीं?

पत्रकारिता के क्षेत्र में करियर की बात करें तो आज के दौर में पत्रकारिता एक बेहतरीन करियर हो सकता है। अवसर लाजिमी है, घटने का कोई नाम नहीं है। इंटरनेट की दुनिया में रोज नए TV Channel, Newspaper, Magazine, Online Channel और Website खुल रहे हैं, जो रोजगार के नए अवसर लेकर आ रहे हैं। साथ ही नौकरियों की विविधता भी बढ़ रही है। ये news channel अपनी पकड़ बनाने के लिए हर शहर में अपना पैर फैला रहे हैं, जिससे अब यह Sector न केवल बड़े शहरों में बल्कि छोटे गांवों में भी युवाओं को अवसर प्रदान कर रहा है। Journalism Me Career Kaise Banaye

इसके अलावा आप Freelance के तौर पर अपना चैनल खोल सकते हैं और New Media Magazine बना सकते हैं। साथ ही आप सरकारी Media campany में काम कर सकते हैं।

Skills for Journalism in Hindi – जर्नलिज्म के लिए आवश्यक योग्यता

पत्रकारिता की पढ़ाई करने के लिए किसी भी विषय में 12वीं पास होना जरूरी है। इसके बाद पत्रकारिता में Diploma या डिग्री प्राप्त की जा सकती है।

पत्रकारिता में मास्टर डिग्री के लिए, कुछ कॉलेजों में प्रवेश के लिए पत्रकारिता में स्नातक की डिग्री की आवश्यकता होती है। वहीं, कुछ Universities और कॉलेजों में आप BA या BSC के बाद मास्टर डिग्री हासिल कर सकते हैं।

post graduate डिग्री पूरी करने के बाद आप MPhil, PHD कर सकते हैं और teaching field में आ सकते हैं।

journalism कहाँ करें (पत्रकारिता) – यदि आप पत्रकारिता में अपना उज्ज्वल भविष्य बनाना चाहते हैं, तो आपको एक प्रसिद्ध कॉलेज में पत्रकारिता का अध्ययन करना चाहिए।

ऐसा इसलिए है क्योंकि आज कई पत्रकारिता कॉलेज हैं जहां पत्रकारिता पाठ्यक्रम संचालित किए जाते हैं, लेकिन उन दो colleges में ऐसी सुविधाएं नहीं हैं और छात्रों को व्यावहारिक जानकारी प्रदान करने में सक्षम हैंन ही उन्हें नौकरी के लायक बनाया जा सकता है। इसलिए किसी भी colleges में एडमिशन लेने से पहले वहां मिलने वाली सुविधाओं और campus placement के बारे में जान लेना चाहिए।

चूँकि आप इन जगहों पर व्यावहारिक और व्यावसायिक ज्ञान प्राप्त करेंगे, आप वहाँ से भी यह कोर्स कर सकते हैं। इससे आपको नौकरी खोजने में मदद मिलेगी।आजकल ज्यादातर लोग पत्रकारिता की पढ़ाई करके बेरोजगार हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि उनके पास एक अच्छा पत्रकार बनने के लिए आवश्यक पत्रकारिता का ज्ञान नहीं है इसलिए किसी अच्छे colleges में पत्रकारिता का कोर्स करें। यहां मैं आपको कुछ बेहतरीन पत्रकारिता colleges के बारे में बताऊंगा।

Types of Journalism –पत्रकारिता के प्रकार

पत्रकारिता की पढ़ाई करने से पहले यह जरूरी है कि आप जानें कि पत्रकारिता कितने प्रकार की होती है। नीचे हम आपको इस बारे में बताने वाले हैं–

  • print journalism
  • electronic journalism
  • New Media Journalism
  • public relations

Print Journalism – यह Journalism की सबसे पुरानी विधा है। इस तरह की पत्रकारिता में news paper, पत्र – पत्रिकाओं के लिए काम किया जाता है।

Electronic Journalism – इस Journalism के अंतर्गत रेडियो और T.V. का क्षेत्र आता है। यह भी तेजी से प्रसार करने वाला Journalism है। इस तरह की पत्रकारिता ने दुनिया को पढ़ने की दुनिया से अलग सुनकर का देखकर दुनिया को जानने के विकल्प दिए।

New Media – इसे web media, social media , digital media या online media Journalism कहते हैं। आने वाले दिनों में इसका करियर स्कोप तेजी से गति लेने वाला है। इस पत्रकारिता में पब्लिक से जुड़ना अधिक आसान है|

Public Relation :– इस प्रकार की पत्रकारिता को mass media अनुसंधान में अलग से पढ़ाया जाता है। इसका काम जनता के सामने किसी व्यक्ति, व्यक्तित्व, सेलिब्रिटी या कंपनी की सकारात्मक छवि पेश करना है। इस प्रकार की पत्रकारिता में आप व्यवसायों, राजनेताओं और मशहूर हस्तियों के लिए काम करके बेहतर भविष्य बना सकते हैं।

जर्नलिस्ट के कार्य ( Work of Journalist in Hindi)

एक पत्रकार के रूप में हम विभिन्न प्रकार की नौकरियां देख सकते हैं। कुछ पत्रकार fieldwork कर सकते हैं या कर सकते हैं, कुछ desk work करते हैं। fieldwork से तात्पर्य समाचारों को जनता तक पहुँचाने और आतंकवादी हमलों, महामारी और बाढ़ जैसी प्रतिकूल परिस्थितियों पर Report करने से है।

पत्रकारों के काम का दायरा उनके संचार कौशल, समुदाय में उनकी अंतर्दृष्टि और उनके संपर्क के बिंदुओं से निर्धारित होता है। कुछ पत्रकार desk work में रुचि रखते हैं। desk job पर news editing और editing का काम होता है। और कुछ को photography में दिलचस्पी होती है और फिर वे cameraman का काम करते हैं। यह भी कोई आसान काम नहीं रहा है। इसके लिए विशेष कौशल की भी आवश्यकता होती है।

Journalist बनने के लिए कोर्स

पत्रकार या पत्रकार बनें, mass communication में Diploma, mass communication में स्नातक, mass communication में  Fiji Diploma, mass communication में master, पत्रकारिता में Diploma या पत्रकारिता में डिग्री।

Journalism course-

डिप्लोमा कोर्स-

पत्रकारिता और जनसंचार में Diploma, पत्रकारिता में Diploma, broadcast journalism में Diploma, web media या online media में Diploma, Electronic Media में Diploma, Print Media में Diploma

डिग्री कोर्स-

Mass Communication एंड Journalism में BA, Journalism में BA, Mass Communication,, BSC Mass Communication, and Journalism, Bachelor of Journalism and Mass Communication, Bachelor of Broadcasting Journalism

पीजी डिप्लोमा कोर्स

Fiji Diploma in Mass Communication and Journalism, Fiji Diploma in Journalism, Fiji Diploma in Mass Communication, Fiji Diploma in Mass Communication, Advertising and Journalism, Fiji Diploma in Journalism and Mass Communication Journalism

मास्टर डिग्री कोर्स-

Master in Mass Communication, Master in Journalism and Mass Communication,MA in Mass Communication, MSc Mass Communication

Also read: Biochemistry me Career Kaise Banaye

पत्रकार (journalist ) बनाने के लिए क्या योग्यताएं होनी चाहिए ?

पत्रकार बनने के लिए अभ्यर्ती journalism  या mass communication में ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री या पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा धारक होने चाहिए | इसके साथ ही अभ्यर्ती के पास संबंधिंत भाषा में अच्छी communication skills सहित राजनीती, खेल, वित्त, और अर्थशास्त्र आदि विभिन्न क्षेत्रो में रूचि और ज्ञान होना चाहिए |

तो दोस्तों हमने journalist में करियर कैसे बनाए? कैसे करें की सम्पूर्ण जानकारी आपको इस लेख से देने की कोशिश की है उम्मीद है आपको यह लेख पसंद आया होगा अगर आपको हमारी post अच्छी लगी हो तो प्लीज कमेंट सेक्शन में हमें बताएँ और अपने दोस्तों के साथ शेयर भी करें।

Source:
Guru Chakachak

FAQs

पत्रकार  कौन होते है ?

एक Journalist Radio, Television, Newspaper, Magazine या web media आदि के माध्यम से लोगो तक देश और दुनिया की महत्वपूर्ण जानकारिया और समाचार पहुंचने वाले व्यक्ति  होते है |

पत्रकार और रिपोर्टर में क्या अंतर होता है ?

एक रिपोर्टर और पत्रकार के बीच सबसे बड़ा अंतर यह है की एक रिपोर्टर वह होता है जो टेलीविज़न या अखबारों के लिए विशिष्ट समाचारो को शामिल करता है, जब की एक पत्रकार वह व्यक्ति होता है जो समाचारो को लिख सकता है, समाचारो को वित्तरित कर सकता है, और विभिन्न सामूहिक मीडिया गतिविधियों की मेजबानी कर सकता है | अतः रिपोर्टर पत्रकारिता के  विभिन्न नौकरी प्रकारो में से मात्र एक प्रकार है |

एक पत्रकार को लगभग कितनी सैलरी ( वेतन ) मिलती है ?

भारत में पत्रकारों को उनके कार्य और पत्रकारिता के माध्यम के अनुसार शुरुआत में 1 से 2 लाख रूपए वार्षिक सैलरी मिल सकती है |

भारत में journalism  या mass communication का कोर्स करने में कितना खर्च आता है ?

भारत में विभिन्न विश्वविद्यालयों में journalism  या mass communication  का ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन या पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा कोर्स करने में 1 लाख रूपए से लेकर 4 लाख रूपए तक का खर्च आ सकता है |

Leave a Comment

Your email address will not be published.