निश्चयवाचक सर्वनाम – Nishchay Vachak Sarvanam

Nishchay Vachak Sarvanam: आज के लेख के माध्यम से हम जानेंगे निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते है? और निश्चयवाचक सर्वनाम के कुछ उदाहरण भी देखेंगे।

निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं? परीक्षा के दृष्टिकोण से एक महत्वपूर्ण टॉपिक है. अक्सर इस विषय से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है. अतः परीक्षार्थियों को निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते हैं? से जुड़े सभी सम्बंधित प्रश्नों का भलीभांति तैयार कर लेना चाहिए।

सर्वनाम की परिभाषा

वह शब्द जिनका प्रयोग संज्ञा के स्थान पर किया जाता है अर्थात् संज्ञा के बारे में बुलाने के लिए या संज्ञा के बारे में बताने के लिए संज्ञा की जगह पर जिन शब्दों का प्रयोग किया जाता हैं, उन्हें सर्वनाम कहा जाता है। उदाहरण के लिए- मैं, तुम, हम, वह, उसके आदि।

निश्चयवाचक सर्वनाम – Nishchay Vachak Sarvanam

निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते है?

इसे भी पढ़ें- शब्द रूप

जब किसी संज्ञा के स्थान पर ऐसे शब्द का प्रयोग किया जाता है जिससे किसी वस्तु व्यक्ति या स्थान की निश्चितता का बोध हो उसे निश्चयवाचक सर्वनाम कहते हैं. ऐसे आप को शायद कम समझ में आए नीचे हम आपको इसके कुछ उदाहरण बता रहे हैं जिससे आपको अच्छी तरह से समझने में मदद मिलेगी तो आप इस उदाहरण को अच्छी तरह से पढ़िए. जैसे

  • यह मेरी पुस्तक है।
  • वह मेरी पुस्तक है।
  • वे मेरी पुस्तकें है।
  • ये मेरी कॉपी है।
  • यह राम है वह श्याम है ।
  • ये भारतवासी है वे प्रवासी है।

यदि इन वाक्यों को हम ध्यान से देखते हैं तो आपको बहुत अच्छे से समझ में आ जाएगा निश्चयवाचक सर्वनाम क्या होते हैं. जैसे आप इन चारों वाक्य में देख सकते हैं. यह, वह ,वे, ये  भी इन 4 शब्दों का प्रयोग संज्ञा के स्थान पर किया गया है तो यह सभी शब्द निश्चितता बताने के साथ-साथ है वस्तुओं की तरफ इशारा भी कर रहे हैं. उनकी तरफ संकेत भी कर रहे हैं. हम इनको संकेतवाचक सर्वनाम भी कह सकते हैं.

जब कोई चीज पास में होती है. तो उसके लिए हम यह प्रयोग करते हैं. जब कोई वस्तु दूर होती है. तो उसके लिए हम वह का प्रयोग करते हैं. जब वस्तु एक से ज्यादा होती है. तो उसके लिए हम वे का प्रयोग करते हैं. लेकिन वे का प्रयोग तब किया जाता है. जब पुस्तक वस्तुएं एक से ज्यादा हो और दूर हो और जब एक से ज्यादा वस्तुएं हो और हमारे नजदीक हो पास में हो तो उस समय ये का प्रयोग किया जाता है.

लेकिन यहां पर आपको एक बात का बहुत ज्यादा ध्यान देना होगा कि यदि यह, वह ,वे, ये  के तुरंत बाद संज्ञा शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए आप हमारे उदाहरण को भी देख सकते हैं. कि हमने संज्ञा शब्दों का प्रयोग यह, वह ,वे, ये  के तुरंत बाद नहीं किया है. यदि इन के तुरंत बाद संज्ञा शब्दों का प्रयोग किया जाएगा. तो कभी – कभी यह शब्द उन संज्ञा शब्दों की विशेषताएं बताने लगते हैं. जिनके कारण यह सर्वनाम होते हुए भी विशेषण बन जाते हैं तो आप इन बातों का ध्यान जरूर रखें।

इस आर्टिकल में अपने पढ़ा कि, निश्चयवाचक सर्वनाम किसे कहते है? हमे उम्मीद है कि ऊपर दी गयी जानकारी आपको आवश्य पसंद आई होगी। इसी तरह की जानकारी अपने दोस्तों के साथ ज़रूर शेयर करे

Leave a Comment

Your email address will not be published.