UP Board Solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत

यहां हमने यूपी बोर्ड कक्षा 6वीं की विज्ञान एनसीईआरटी सॉल्यूशंस को दिया हैं। यह solutions स्टूडेंट के परीक्षा में बहुत सहायक होंगे | Student up board solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत pdf Download करे| up board solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत notes will help you. NCERT Solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत pdf download, up board solutions for Class 6 Science.

यूपी बोर्ड कक्षा 6 science के सभी प्रश्न के उत्तर को विस्तार से समझाया गया है जिससे स्टूडेंट को आसानी से समझ आ जाये | सभी प्रश्न उत्तर Latest UP board Class 6 science syllabus के आधार पर बताये गए है | यह सोलूशन्स को हिंदी मेडिअम के स्टूडेंट्स को ध्यान में रख कर बनाये गए है |

जीव जगत

अभ्यास प्रश्न

प्रश्न 1.
सही विकल्प को छाँटकर अपनी अभ्यास पुस्तिका में लिखिए (विकल्प चुनकर) –
(क) एक कोशिकीय जीव है –
(i) मनुष्य
(ii) केंचुआ
(iii) यूग्लीना (✓)
(iv) छिपकली

(ख) मेरूदण्ड पायी जाती है-
(i) केंचुआ में
(ii) जोंक में
(iii) तिलचट्टा में
(iv) मछली में (✓)

(ग) अपुष्पी पौधे है –
(i) आम
(ii) फर्न (✓)
(iii) जामुन
(iv) केला

(घ) मूलरोम किसमें पाया जाता है?
(i) तना में
(ii) पत्ती में
(iii) जड़ में (✓)
(iv) पुष्प में।

प्रश्न 2.
निम्नलिखित कथनों को पढ़कर उनके सामने सही के लिए सही का (✓) तथा गलत के लिए गलत (✗) का चिह्न लगाइए (चिह्न लगाकर) –
उत्तर:
(क) पौधों को भोजन की आवश्यकता होती है।    (✓)
(ख) जन्तुओं में वृद्धि जीवन पर्यंत होती है।          (✗)
(ग) अमीबा बहुकोशिकीय जीव है।            (✗)
(घ) पैरामीशियम एक सूक्ष्म जीव है।           (✓)
(ङ) रन्ध्र गैसों के आदान-प्रदान में सहायक होते हैं।   (✓)
(च) गेहूँ तथा धान बहुवर्षीय पौधे हैं।             (✗)
(छ) खरगोश अकशेरूकी है।                       (✗)
(ज) सूक्ष्म जीव हमें नग्न आँखों से नहीं दिखाई देते हैं।     (✗)

प्रश्न 3.
रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए (पूर्ति करके) –
उत्तर:
(क) भोजन से हमें कार्य करने के लिए ऊर्जा मिलती है।
(ख) सभी जन्तु तथा पौधे श्वसन की क्रिया में कार्बनडाइऑक्साइड गैस बाहर निकालता है।
(ग) कछुए का जीवनकाल लगभग 120-150 वर्ष होता है।
(घ) लाजवंती का पौधा स्पर्श के प्रति संवेदनशील है।
(ङ) अपशिष्ट पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने की क्रिया को उत्सर्जन कहते हैं।
(च) पादप मिट्टी से मूलरोम की सहायता से जल एवं खनिज लवणों का अवशोषण करते हैं।

प्रश्न 4.
स्तम्भ ‘क’ का स्तम्भ ‘ख’ से मिलान कीजिए (मिलान करके) –
उत्तर:
UP Board Solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत 1

UP Board Solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत 1

प्रश्न 5.
मक्का, प्याज, सरसों तथा बैगन में पायी जाने वाली जड़ों के नाम लिखिए।
उत्तर:
मक्का = झकड़ा जड़, प्याज = मूसला जड़, सरसों = मूसला जड़, बैगन = मूसला. जड़

UP Board Solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत 2

प्रश्न 6.
मूसला जड़ तंत्र का नामांकित चित्र बनाइए।
उत्तर:

UP Board Solutions for Class 6 Science Chapter 6 जीव जगत 2

प्रश्न 7.
किन्हीं तीन पौधों के नाम लिखिए जिनमें जड़, तना तथा पत्ती नहीं पाई जाती है।
उत्तर:
बैक्टीरिया, कवक तथा शैवाल में जड़, तना तथा पत्ती नहीं पाई जाती है।

प्रश्न 8.
किन्हीं दो बहुवर्षीय पौधों के नाम लिखिए।
उत्तर:
आम तथा गुड़हल बहुवर्षीय पौधे हैं।

प्रश्न 9.
शाक, झाड़ी तथा वृक्षों के पाँच-पाँच उदाहरण लिखिए।
उत्तर:
शाक – मक्का, पालक, सरसों, मटर, बैगन।
झाड़ी – गुलाब, जंगली बेर, करौंदा, नीलकाँटा, गुड़हल।
वृक्ष – नीम, आम, बरगद, पीपल, चीड़।

प्रश्न 10.
शाकाहारी, मांसाहारी तथा सर्वाहारी जन्तुओं के पाँच-पाँच नाम लिखिए।
उत्तर:
शाकाहारी – खरगोश, गाय, हाथी, बकरी, घोड़ा।
मांसाहारी – शेर, चीता, गीदड़, तेंदुआ, चील।
सर्वाहारी – मनुष्य, बिल्ली, कुत्ता, कौआ, गौरैया।

● नोट- प्रोजेक्ट कार्य विद्यार्थी स्वयं करें।

————————————————————

All Chapter UP Board Solutions For Class 6 science

All Subject UP Board Solutions For Class 6 Hindi Medium

Remark:

हम उम्मीद रखते है कि यह UP Board Class 6 science NCERT Solutions in Hindi आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है |

यदि इन नोट्स से आपको हेल्प मिली हो तो आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर कर सकते है और HindiLearning.in को सोशल मीडिया में शेयर कर सकते है, जिससे हमारा मोटिवेशन बढ़ेगा और हम आप लोगो के लिए ऐसे ही और मैटेरियल अपलोड कर पाएंगे |

आपके भविष्य के लिए शुभकामनाएं!!

Leave a Comment

Your email address will not be published.