Ganesh Ka Sandhi Viched

Ganesh Ka Sandhi Viched – गणेश का संधि विच्छेद

Ganesh Ka Sandhi Viched: हेलो स्टूडेंट्स, आज हम इस आर्टिकल में गणेश का संधि विच्छेद (Ganesh Ka Sandhi Viched) के बारे में पढ़ेंगे | यह हिंदी व्याकरण का एक महत्वपूर्ण टॉपिक है जिसे हर एक विद्यार्थी को जानना जरूरी है |

Ganesh Ka Sandhi Viched

सन्धि विच्छेद

दो शब्दों के मेल से बने शब्द को पुनः अलग अलग करने को संधि विच्छेद कहते हैं। अर्थात संधि शब्दों को अलग अलग करने को संधि विच्छेद कहते हैं

विच्छेद का अर्थ है पृथक करना।

गणेश का संधि विच्छेद

संधि –        गणेश

विच्छेद –  गण+ ईश

इसे भी पढ़े: नाविक का संधि विच्छेद

गणेश संधि का प्रकार

गणेश में ” गुण संधि” संधि है। गणेश का संधि विच्छेद “गण+ ईश” होता है। तथा इसमें “ गुण संधि” लागू होती है।

परीक्षाओ में संधि विच्छेद बहुत ज्यादा पूछे जाने वाला प्रश्न है, हर एक कक्षा के परीक्षा में संधि विच्छेद से एक प्रश्न तो जरूर की आता है | इसलिए इन सभी संधियों को अच्छे से पढ़े | Ganesh ka sandhi vichched kya hoga, Ganesh shabd ka sandhi Ganesh kijiye, Navik ka sandhi vichchhed aur sandhi ka naam आदि प्रश्नो के उत्तर आपको मिल गए होंगे |

हम उम्मीद रखते है कि यह Ganesh ka sandhi vichched आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुआ होगा | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है | हमारे विषय अध्यापक उसका जवाब देंगे | HindiLearning.in को सोशल मीडिया में शेयर करे, जिससे हमारा मोटिवेशन बढ़ेगा और हम आप लोगो के लिए ऐसे ही और मैटेरियल अपलोड कर पाएंगे |

Leave a Comment

Your email address will not be published.