C में यूनियन क्या है? Union in C in Hindi

हेलो स्टूडेंट्स, इस पोस्ट में हम आज Union in C in Hindi के बारे में पढ़ेंगे | इंटरनेट में सी भाषा के नोट्स हिंदी में बहुत कम उपलब्ध है, लेकिन हम आपके लिए यह हिंदी में डिटेल्स नोट्स लाये है, जिससे आपको यह टॉपिक बहुत अच्छे से समझ आ जायेगा |

Union in C in Hindi

  • C Language में, Union एक विशेष data type होता है जिसके द्वारा हम अलग-अलग data types को same (समान) memory location में स्टोर करते हैं.
  • दूसरे शब्दों में कहें तो, “एक यूनियन user के द्वारा define किया हुआ data type होता है. इसमें सभी members एक ही memory location को share करते हैं.”
  • हम Union को बहुत सारें elements के साथ define कर सकते हैं और इसमें प्रत्येक element को member कहते हैं.
  • इसे union कीवर्ड के द्वारा define किया जाता है.
  • यूनियन, structure की तरह ही समान होते है परन्तु इनके मध्य एक अंतर होता है. structure सभी members को स्टोर करने के लिए memory space प्रदान करता है जबकि union केवल सबसे बड़े member को स्टोर करने के लिए memory प्रदान करता है.
  • हम एक समय में union के केवल एक member को ही access कर सकते हैं. एक समय में सभी members को access नहीं किया जा सकता है.

Define Union  – यूनियन define करना

इसे define करने के लिए union keyword का प्रयोग किया जाता है. जिस प्रकार हम structure को डिफाइन करते हैं उसी प्रकार इसे भी करते हैं. नीचे आपको इसका syntax दिया गया है:-

union union_name   
{  
 data_type member1;  
 data_type member2;  
 .  
 .  
 data_type memeberN;  
};  

Advantage of union in Hindi – यूनियन के लाभ

इसके लाभ निम्नलिखित हैं:-

  1. Structure की तुलना में यह कम memory लेता है अर्थात् इससे मैमोरी की बचत होती है.
  2. जब हम यूनियन का प्रयोग करते है तो इसके केवल last member को ही direct access किया जा सकता है.
  3. इसका उपयोग करके हम दो या दो से अधिक data members को एक ही memory location में स्टोर कर सकते हैं.
  4. यह केवल एक data member के data को hold करता है.

Union का सरल program

#include <stdio.h>

union demo
{
    int a;
    float b;
    char ch;
};

int main( )
{
 union demo st;
 st.a = 10;
 st.b = 30.2;
 st.ch="x";
    
 printf("%dn", st.a);
 printf("%fn", st.b);
 printf("%cn", st.ch);
    
 return 0;
}

Union के members को access करना

यूनियन के किसी भी member को access करने के लिए हम member access operator (.) का प्रयोग करते है. इसे dot (.) operator भी कहते हैं. Pointer variables को access करने के लिए हम arrow (->) ऑपरेटर का भी प्रयोग करते हैं.

इसका program नीचे दिया गया है:-

#include <stdio.h> 
  
union demo { 
    int a; 
    char b; 
}; 
  
int main() 
{ 
  union demo d1; 
  d1.a = 88; 
  
// d2 is a pointer to union d1 
  union demo* d2 = &d1; 
  
// Accessing union members using pointer 
 printf("%d %c", d2->a, d2->b); 
 return 0; 
} 

इसका आउटपुट
88 X

Difference Between Structure and Union in Hindi – स्ट्रक्चर और यूनियन के मध्य अंतर

इनके मध्य अंतर निम्नलिखित हैं:-

StructureUnion
Structure को define करने के लिए struct कीवर्ड का प्रयोग किया जाता है.यूनियन को डिफाइन करने के लिए union कीवर्ड का प्रयोग किया जाता है.
इसमें प्रत्येक member को एक यूनिक memory space दिया जाता है.इसमें सभी members एक ही मैमोरी को share करते हैं.
structure में यदि किसी एक data member की value को change भी कर दिया जाए तो उसका प्रभाव दूसरे data members पर नहीं पड़ता.यूनियन में यदि एक data member की value को बदल दिया जाए तो दूसरे data members की value भी change हो जाएगी.
इसमें एक समय में एक से ज्यादा members को access किया जा सकता है.इसमें एक समय में केवल एक ही member को एक्सेस किया जा सकता है.
यह flexible array को सपोर्ट करता है.यह flexible array को सपोर्ट नहीं करता है.
example
struct Employee{ int age; char name[50]; float salary; };
union Employee{ int age; char name[50]; float salary; };

हम आशा करते है कि यह C Language के हिंदी में नोट्स आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है | आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर करे |

Leave a Comment

Your email address will not be published.