Types of virus in Hindi

हेलो स्टूडेंट्स, इस पोस्ट में हम आज virus kitne prakar ke hote h के बारे में पढ़ेंगे | इंटरनेट में नेटवर्क सुरक्षा और क्रिप्टोग्राफी के नोट्स हिंदी में बहुत कम उपलब्ध है, लेकिन हम आपके लिए यह हिंदी में डिटेल्स नोट्स लाये है, जिससे आपको यह टॉपिक बहुत अच्छे से समझ आ जायेगा |

कंप्यूटर में बहुत प्रकार के वायरस होते है कुछ निम्न है:-

1:-Boot virus:- बूट वायरस सिस्टम की फ्लॉपी तथा हार्ड डिस्क को infect करता है। इस प्रकार के वायरस से बचने के लिए हमें यह देखना चाहिए कि फ्लॉपी डिस्क अच्छी तरह से write(लिखी) हो तथा हमें unknown फ्लॉपी डिस्क को डिस्क ड्राइव में रखकर सिस्टम को start नही करना चाहिए। इस प्रकार के वायरस को Master Boot Sector Virus भी कहते है।

2:-Macro virus:- मैक्रो वायरस मैक्रो प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का प्रयोग करके बनाये जाते है। ये वायरस फाइल्स को infected करते है।

3:-e-mail virus:- e- mail वायरस एक नया वायरस है। यह message के आस पास घूमता रहता है और यह बहुत सारें e-mail address को अपने आप send हो जाता है।

4:-Memory resident virus:-ये वायरस RAM में स्टोर रहते है। और RAM मेमोरी को infected करते है जिससे सिस्टम खुलते ही बन्द हो जाता है।

5:-file virus:- फ़ाइल वायरस .exe files,.zip files तथा .bin files के साथ जुड़े रहते है। ये वायरस execute होने वाली फाइल्स को infect कर देता है।

5:-network virus:- ये वायरस लोकल एरिया नेटवर्क में spread हो जाता है और नेटवर्क को slow कर देता है। यह इंटरनेट के माध्यम से भी फ़ैल जाता है।

Also Check: What is Botnet Malware in Hindi

6:- Polymorphic Virus:-यह वायरस बहुत ही complicated वायरस है जो कि कंप्यूटर के functions को effect करता है। इस प्रकार के वायरस को detect कर पाना बहूत मुश्किल होता है क्योंकि ये वायरस हर बार अपने आप को खुद ही encrypt कर लेता है जिससे इसका signature बदल जाता है।

हम आशा करते है कि यह Types of virus in Hindi के हिंदी में नोट्स आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है | आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर करे |

Leave a Comment

Your email address will not be published.