Swapping Kya Hai Hindi Me

हेलो स्टूडेंट्स, इस पोस्ट में हम आज operating system के बारे में पढ़ेंगे | इंटरनेट में ऑपरेटिंग सिस्टम के नोट्स हिंदी में बहुत कम उपलब्ध है, लेकिन हम आपके लिए यह हिंदी में डिटेल्स नोट्स लाये है, जिससे आपको यह टॉपिक बहुत अच्छे से समझ आ जायेगा |

swapping एक मेमोरी मैनेजमेंट स्कीम है, यह एक ऐसी तकनीक है जिसमे process को main memory से remove किया जाता है तथा उसे secondary memory में स्टोर किया जाता है.

इसका प्रयोग main memory utilization को बेहतर बनाने में किया जाता है.

secondary memory में वह स्थान(एरिया) जहाँ swapped out प्रोसेस स्टोर रहती है उस स्थान को swap space कहते है.
image Fig:-swapping

Unitasking ऑपरेटिंग सिस्टम में केवल एक प्रोसेस, मेमोरी के यूजर प्रोग्राम एरिया को occupy करता है और तब तक memory में रहता है जब तक कि प्रोसेस पूरा नही हो जाता.
multitasking ऑपरेटिंग सिस्टम में एक ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है जब सभी active प्रोसेसेज main memory में accommodate(समायोजित) नही हो सकते तब एक प्रोसेस को main memory से swap out किया जाता है जिससे कि दूसरे प्रोसेस उसमें आ सकें.

इसका उद्देश्य हार्ड डिस्क में उपस्थित डेटा को access करने तथा इसे RAM में लाने के लिए किया जाता है जिससे कि एप्लीकेशन प्रोग्राम इसका प्रयोग कर सकें.

याद रखने वाली बात यह है कि swapping का प्रयोग केवल तभी किया जाता है जब डेटा RAM में उपस्थित ना हों.

हम आशा करते है कि यह operating system के हिंदी में नोट्स आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है | आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर करे |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *