RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार

हेलो स्टूडेंट्स, यहां हमने राजस्थान बोर्ड Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार सॉल्यूशंस को दिया हैं। यह solutions स्टूडेंट के परीक्षा में बहुत सहायक होंगे | Student RBSE solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार pdf Download करे| RBSE solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार notes will help you.

Rajasthan Board RBSE Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 पाठ्यपुस्तक के प्रश्नोत्तर

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 बहुचयनात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
किसी भौतिक माध्यम द्वारा वस्तुओं या व्यक्तियों का किसी स्थान पर स्थानान्तरण को कहते हैं –
(अ) प्रवास
(ब) परिवहन
(स) संचार
(द) ये सभी

प्रश्न 2.
विश्व में सर्वाधिक सड़कों की लम्बाई किस देश में है?
(अ) भारत
(ब) यू.एस.ए.
(स) जापान
(द) चीन

प्रश्न 3.
सेंट जॉन नगर से बैंकूवर नगर को जोड़ने वाला महामार्ग है?
(अ) पैन-अमेरिकन
(ब) ट्रांस कनाडियन
(स) अलास्का महामार्ग
(द) स्टुअर्ट महामार्ग

प्रश्न 4.
भारत का सबसे लम्बा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या है –
(अ) एन.एच. 7
(ब) एन.एच: 8
(स) एन.एच. 15
(द) एन.एच. 27

प्रश्न 5.
स्वर्णिम चतुर्भुज योजना में कितने महानगरों को मिलाया गया है?
(अ) पाँच
(ब) दो
(स) चार
(द) सात

प्रश्न 6.
संसार की सबसे पहली रेलगाड़ी चलना प्रारंभ हुई –
(अ) इंग्लैण्ड
(ब) भारत
(स) अमेरिका
(द) चीन

प्रश्न 7.
यूरो टनल चैनल जोड़ता है –
(अ) इंग्लैण्ड को पेरिस
(ब) लन्दन से पेरिस
(स) ऑकलैण्ड से पेरिस
(द) यूरोप व इंग्लिश चैनल

प्रश्न 8.
विश्व का सबसे लम्बा रेलमार्ग है –
(अ) कैनेडियन-पैसिफिक मार्ग
(ब) उत्तरी-अन्तर्महाद्वीपीय
(स) ट्रॉस-साइबेरियन
(द) केप-काहिरा

प्रश्न 9.
विश्व का सबसे व्यस्ततम समुद्री जलमार्ग है –
(अ) भूमध्यसागर व हिन्द महासागर
(ब) दक्षिणी अटलांटिक
(स) प्रशान्त महासागरीय
(द) उत्तरी अटलांटिक समुद्री मार्ग

प्रश्न 10.
“त्रि-प्रणाली” दिस नहर पर बनाई गई है?
(अ) स्वेज नहीं
(ब) पनामा नहर
(स) सू-नहूर
(द) राइने नहर

प्रश्न 11.
संसार में वायुमाग के कितने प्रकार हैं?
(अ) पाँच
(ब) दस
(स) छः
(द) पन्द्रह

प्रश्न 12.
संचार के सार्वजनिक साधनों में शामिल नहीं है –
(अ) रेडियो
(ब) टेलीविजन
(स) इन्टरनेट
(द) जीपीएस

उत्तरमाला:
1. (ब), 2. (ब), 3. (ब), 4. (अ), 5. (स), 6. (अ), 7. (ब), 8. (स), 9. (द), 10. (ब), 11. (स), 12. (स)

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
परिवहन किसे कहते हैं।
उत्तर:
सामान्यतया व्यक्तियों और वस्तुओं को एक स्थान से दूसरे स्थान तक वहन करने की सेवा या सुविधा को परिवहन कहा जाता है।

प्रश्न 2.
विश्व में सर्वाधिक सड़कों की लम्बाई किस देश की है?
उत्तर:
विश्व में सड़कों की सर्वाधिक लम्बाई संयुक्त राज्य अमेरिका में हैं।

प्रश्न 3.
ट्रांस-कनाडियन महामार्ग किन दो नगरों को जोड़ता है?
उत्तर:
ट्रांस-कनाडियन महामार्ग प्रशान्त महासागरीय तट पर स्थित बैंकूवर नगर को अटलांटिक महासागरीय तट ” पर स्थित सेंट जान नगर से जोड़ता है।

प्रश्न 4.
पाइपलाइन में किन-किन पदार्थों का परिवहन किया जाता है?
उत्तर:
पाइपलाईनों से अशुद्ध तेल (कच्चा), शोधित पेट्रोलियम उत्पाद, प्राकृतिक गैस, जल तथा दूध का परिवहन किया जाता है।

प्रश्न 5.
संचार किसे कहते हैं?
उत्तर:
सूचनाओं को उनके उद्गम स्थान से गंतव्य तक किसी चैनल के माध्यम से पहुँचाने की प्रक्रिया संचार कहलाती है।

प्रश्न 6.
इण्टरनेट क्या है?
उत्तर:
सूचना भेजने वाले एवं प्राप्त करने वाले व्यक्तियों के शारीरिक संचालन बिना सूचनाओं के प्रेषण एवं प्राप्ति की विद्युतीय अंकीय दुनिया को इण्टनरनेट कहा जाता है।

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
विश्व के आन्तरिक जलमार्गों पर टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
विश्न के जिन मार्गों में पर्याप्त जल प्रवाह वाली बड़ी-बड़ी नदियाँ पाई जाती हैं, उनका उपयोग आन्तरिक जल परिवहन के लिए किया जाता है। विश्व के प्रमुख आन्तरिक जलमार्ग निम्नलिखित हैं –

  1. यूरोप के आन्तरिक जलमार्ग: राइन, सीन, पो नामक उत्तर की ओर बहने वाली नदियाँ तथा डेन्यूब, डोन, नीपर तथा नीस्टर नदियों तथा कैस्पियन सागर में गिरने वाली वोल्गा नदी के निचले भाग।
  2. उत्तही अमेरिका के आन्तरिक जलमार्ग: संयुक्त राज्य अमेरिका तथा कनाडा के मध्य स्थित महान झील क्षेत्र, संयुक्त राज्य अमेरिका में मिसीसिपी-मिसौरी, मिसीसिपी तथा ओहियो नदियों तथा कनाडा में सस्केचवान, मैकेन्जी तथा ओटावा नदियाँ।
  3. एशिया के आन्तरिक जलमार्ग: चीन में ह्वांगहो नदी के मुहाने से लेकर 200 किमी ऊपर ऊ का नदी प्रवाह तथा सीक्यांग नदी, भारत में गंगा, म्यांमार में इरावदी व हिन्द-चीन क्षेत्र में मीनाम नदियाँ प्रमुख हैं।
  4. दक्षिणी अमेरिका के आन्तरिक जलमार्ग: उत्तरी ब्राजील में अमेजन व उसकी सहायक नदियों का लगभग 30 हजार किमी लम्बा नदी मार्ग। दक्षिणी ब्राजील, अर्जेन्टाइना तथा यूरुग्वे की पराना, पराग्वे व प्लाटा नदियाँ।
  5. अफ्रीका के आन्तरिक जलमार्ग: नील नदी का मुहाना प्रदेश तथा नाइजर व कांगो नदियों के मुहाने से लेकर लगभग 1100 किमी अन्दर तक।
  6. आस्ट्रेलिया-आस्ट्रेलिया में मरे व डार्लिंग नदियों के मुहाने से लेकर 1500 किमी अन्दर तक।

प्रश्न 2.
विश्व के प्रमुख समुद्री जलमार्गों के नाम लिए!
उत्तर:
विश्व के प्रमुख समुद्री जलमार्गों के नाम निम्नवर हैं –

  1. उत्तरी अटलांटिक महासागरीय मार्ग।
  2. भूमध्यसागरीय एवं हिन्द महासागरीय जलमार्ग।
  3. उत्तमाशा अन्तरीप महासागरीय जलमार्ग
  4. दक्षिणी अटलांटिक महासागरीय जलमार्ग।
  5. खाड़ी कैरीबियन सागरीय जलमार्ग।
  6. प्रशान्त महासागरीय जलमा।
  7. स्वेज नहर मार्ग।
  8. पनाग नहर मार्ग।

प्रश्न 3.
विश्व के सड़क महामार्गों पर एक टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
दूरस्थ स्थानों को जोड़ने वाली ऐसी लर्ल सकें जिनका निर्माण अबाधित रूप से यातायात के आवागमन के उद्देश्य से किया जाता है, मलाई कहलाती हैं। विश्व के मुङ सड़क महामार्ग निम्नवत् हैं –

  1. मैन-अमेरिकन महामार्ग: यह विश्व के सबसे म्ता महामार्ग है जो अलास्का के उत्तरी पश्चिम भ से प्रारम्भ होकर चिली तथा अर्जेन्टाइना देशों से होता हुआ ब्राजील के ब्रालिया महानगर पर जाकर समाप्त होता है।
  2. ट्रांस-कनाडियन महामार्ग: कनाडा के पूर्वी भाग में स्थित सेंट जान नगर से देश के पश्चिमी भाग में प्रशान्त महासागर के तट पर स्थित बैंकूबरे नगर तक जाने वाला महामार्ग।
  3. अलास्का महामार्ग: कनाडा के एडमन्टन नगर को अलास्का के एंकोरेज नगर से जोड़ने वाला महामार्ग।
  4. स्टुअर्ट महामार्ग: उत्तरी आस्ट्रेलिया के बिरटुम नगर को दक्षिणी आस्ट्रेलिया के ऊंनादत्ता नगर से जोड़ने वाला महामार्ग।

अन्य महामार्ग:

  1. रूस में मास्को-ब्लाडीवोस्टक महामार्ग।
  2. चीन में वियतनाम सीमा पर स्थित शांसो से शंघाई, ग्वांगजाऊ (दक्षिण में) एवं बीजिंग (उत्तर में) जोड़ने वाला महामार्ग।
  3. भारत में वाराणसी से कन्याकुमारी तक जाने वाला महामार्ग, स्वर्णिम चतुर्भज योजना (दिल्ली-मुम्बई-चेन्नई तथा कोलकाता महानगरों को जोड़ने वाला महामार्ग) कॉरीडोर योजना के कश्मीर को कन्याकुमारी तथा पोरबन्दर को सिलचर से जोड़ा गया है।

प्रश्न 4.
ट्रांस साइबेरियन रेलमार्ग का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
ट्रांस साइबेरियन रेलमार्ग विश्व का सबसे अधिक लम्बा रेलमार्ग है। यह रेलमार्ग रूस के पश्चिमी भाग में स्थित सेंट पीटर्सबर्ग (लेनिनग्रोद) से एशियाई रूस के पूर्व में स्थित ब्लाडीवोस्टक तक 9560 किमी लम्बा है। यह दोहरे पथ से युक्त विद्युतीकृत पार महाद्वीपीय रेलमार्ग एशिया का महत्त्वपूर्ण रेलमार्ग है। इस रेलमार्ग ने एशियाई प्रदेश को पश्चिमी यूरोपीय बाजारों से जोड़ने का कार्य किया है। यह रेलमार्ग यूराल पर्वतों और यूराल की नदियों से होकर गुजरता है।

यह रेलमार्ग मास्को, टूला, कजान, ट्यूमिन, ओमस्क, नोवोसिबिर्क, चिता व खबरोवस्क आदि शहरों से गुजरता है। इस रेलमार्ग के निर्माण से विशेषकर साइबेरिया का विकास सम्भव हुआ है। इस रेलमार्ग का व्यापारिक एवं आर्थिक महत्त्व बढ़ गया है, फलस्वरूप इस रेलमार्ग को सन् 1945 में दोहरा कर दिया गया था। यह रेलमार्ग साइबेरिया के आर-पार जाने के कारण ट्रांस साइबेरियन रेलमार्ग के नाम से जाना जाता है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-1

प्रश्न 5.
पनामा नहर मार्ग का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
पनामा नहर पूर्व में स्थित अटलांटिक महासागर को पश्चिम में स्थित प्रशान्त महासागर से जोड़ती है। इस नहर का उद्घाटन सन् 1914 में संयुक्त राज्य अमेरिका द्वारा पनामा जलडमरूमध्य को काटकर प्रशान्त महासागरीय तट पर स्थित पनामा से अटलांटिक महासागर तट पर स्थित कोलोन नगर तक पनामा नहर नाम से किया गया। पनामा नहर 82 किमी लम्बी तथा 90 मीटर चौड़ी है। इसकी न्यूनतम गहराई 12 मीटर तथा सबसे बड़ा समुद्री भाग समुद्र तल से 26 मीटर ऊँचा है। इस नहर प्रणाली में तीन लॉक प्रणाली मिलती हैं –

  1. गातून लॉक्स: अटलांटिक तट के समीप
  2. पेड्रोमिकिट लॉक्स: मध्य में,
  3. मीरा फ्लार्स लॉक्स: प्रशान्त तट के समीप।

इन लॉक का निर्माण पर्वतीय भूमि को पार करने के लिए किया गया है। पनामा नहर को आन्तरिक जलमार्ग के रूप में निम्नलिखित महत्व है –

  1. पनामा नहर मार्ग से होकर जाने पर न्यूयार्क एवं सेनफ्रांसिस्को नगरों की दूरी हार्न अंतरीप मार्ग की तुलना में लगभग 13 हजार किमी कम हो गई है।..
  2. पनामा नहर मार्ग से होकर जाने पर न्यू आर्लियन्स तथा सेनफ्रांसिस्को नगरों की दूरी लगभग 9 हजार किमी, न्यूयार्क से सिडमी. की दूरी लगभग 6500 किमी तथा बालपराइजो (चिली) से न्यूयार्क की दूरी में लगभग 6 हजार किमी की बचत होती है।
    RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-2

प्रश्न 6.
स्वेज नहर मार्ग की विशेषताओं का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
स्वेज नहर अफ्रीका महाद्वीप के उत्तरी भाग में मिस्र देश में भूमध्यसागर तथा लाल सागर को जोड़ने के लिः बनाया गया निर्मित विश्व का सबसे बड़ा कृत्रिम जलमार्ग है। जो मिस्र में भूमध्यसागरीय रेट २५ बि पोर्ट सईद से cle : तट पर स्थित पोर्ट स्वेज तक जाता है। वेज नहर की विशेषताएँ –

  1. स्वेज नहर की लम्बाई 162 किमी औसत चौड़ाई 60 मीटर तथा गहराई 1 मीटर है।
  2. इस नहर मार्ग से प्रतिदिन लगभग 100 जलयान आवागमन करते हैं।
  3. स्वेज नहर मार्ग यूरोपियन देशों को हिन्द महासागर में प्रवेश हेतु एक नवीन मार्ग प्रदान करता है।
  4. इस नहर मार्ग से होकर जाने वाले जलयानों की लिवरपूल से कोलम्बो के रध्य की दूरी उत्तपाण। अन्तरीप मार्ग की तुलना में लगभग 1600 किमी कम हो गई है।
  5. स्वेज नहर के निर्माण से पूर्वी देशों और यूरोप व पश्चिमी देशों के मध्य व्यापार में वृद्धि हुई है तथा वस्तुएँ सस्ती
  6. इस नहर मार्ग से उनरी अमेरिका तथा यूरोप से अनेक एशियाई देशों तक जाने वाले जलयान प्रमुख रूप से गुजरते हैं।
    RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-3

प्रश्न 7.
कैनेडियन-पैसिफिक रेलमार्ग पर एक टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
इस रेलमार्ग का निर्माण सन् 1886 में किया गया। वर्तमान में यह कनाडा का सर्वाधिक महत्वपूर्ण रेलमार्ग है। यह रेलमार्ग 7050 किमी लम्बा है तथा पूर्व में यह अटलांटिक महासागर तट पर स्थित हेलीफैक्सनार से प्रारम्भ होकर मांट्रियल ओटावा, विनीपेग तथा कैलगैरी नगरों से होता हुआ पश्चिम में प्रशान्त महासागर तट पर स्थित बैंकूवर नगर तक जाता है। कनाडा का क्यूबैक-मॉन्ट्रियल औद्योगिक व्यापारिक प्रदेश इसी रेलमार्ग पर विस्तृत है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-4
प्रश्न 8:
संचार के प्रमुग्नु साधन कौन-कौन से हैं? वर्णन कीजिए।
उत्तर:
संचार के प्रमुख साधनों के निम्नलिखित दो वर्ग हैं –

  1. व्यक्तिगत संचार के साधन: जैसे-पत्रादि, दूरभाष (टेलीफोन), मोबाइल, फैक्स, ई-मेल; इण्टरनेट, फेसबुक, 2वीटर तथा वॉटसएप आदि।
  2. सार्वजनिक संचार के साधन: जैसे-रेडियो, टेलीविजन, सिनेमा, जी.पी.एस., जी.आई.एस., उपग्रह (सेटेलाइट), समाचार-पत्र, पत्रिकाएँ, पुस्तकें, जनसभाएँ, गोष्ठियाँ एवं सम्मेलन आदि।

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 निबंधात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
विश्व के किन्हीं दो प्रमुख रेलमार्गों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
विश्व के विभिन्न रेलमार्गों में से यहाँ संयुक्त राज्य अमेरिका के निम्नलिखित दो प्रमुख रेलमार्गों का वर्णन किया जा रहा है –

  1. उत्तरी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।
  2. मध्य अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।

1. उत्तरी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग:
यह संयुक्त राज्य अमेरिका का सबसे लम्बा तथा महत्वपूर्ण रेलमार्ग हैं, जिसकी कुल लम्बाई लगभग 6100 किमी है। यह रे देश के उत्तरी भाग में अटलांटिक महासागर के तट पर स्थित न्यूयार्क नगर से प्रारम्भ होकर शिकागो, सेंटपाल, बिस्मार्क व विलिंग्स होता हुआ प्रशान्त महासागर के तटीय पत्तन सिएटल तक जाता है। इस रेलमार्ग का सीधा सम्पर्क पिट्सबर्ग के लौह-इस्पात उद्योग के साथ-साथ शिकागो-गैरी औद्योगिक गुरों से है।

साथ ही यह प्रेयरी प्रदेश में स्थित विस्मार्क नगर से भी जुड़ा हुआ है। विस्मार्क नगर से पश्चिम की ओर यह रेलमार्ग रॉकी पर्वत मालाओं की पहाड़ियों, दरौं तथा सुरंग को पार करता हुआ। सिएटल तक पहुँचता है। यह डेनमार्ग संयुक्त राज्य अमेरिका के उतरी पश्चिमी भाग को देश के उत्तरी-पूर्वी औद्योगिक क्षेत्र से जोड़ता है। इस रे:र्ग पर ढोए जाने वाली वस्तुओं में मक्का, गेहूं, लौह-इस्पात, मशीनें, माँस, फल तथा लकड़ी आदि सम्मिलित हैं।।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-5
2. मध्य अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग:
संयुक्त राज्य का यह अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग न्यूयार्क महानगर को प्रशान्त तटीय बन्दरगाह नगर सैन्फ्रांसिस्को से जोड़ता है। यह रेलमार्ग न्यूयार्क से शिकागो तक उतरी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग के साथ-साथ चलता है। शिकागो से यह मार्ग अलग होकर पश्चिम की ओर मिसौरी नदी तट पर स्थित ओमाहा नगर से होता हुआ पश्चिम के.पठारी भाग में प्रवेश करता है। पठारी भाग के चेनी नगर से होता हुआ यह रेलमार्ग पश्चिम में रॉकी पर्वत के इनान्स दरें से होता हुआ साल्ट लेक सिटी जाता है जहाँ से पश्चिम की ओर कैलीफोर्निया घाटी होते हुए प्रशान्त महासागर तट पर स्थित सैन्फ्रांसिस्को नगर तक जाता हैं।

प्रश्न 2.
स्वेज तथा पर्नामा जलमार्गों के व्यापारिक महत्त्व पर प्रकाश डालिए।
उत्तर:
स्वेज नहर का व्यापारिक महत्व: स्वेज नहर का व्यापारिक महत्व निम्नलिखित कारणों से है –

  1. स्वेज नहर के निर्माण से यूरोप तथा एशिया च सुदूर पूर्व के बीच की दूरी बहुत कम हो गयी है। लिवरपूल एवं कोलम्बो के प्रध्य प्रत्यक्ष सागरीय मार्ग की दूरी उत्तरमशा अन्तरीप मार्ग की तुलना में लगभग 160) किमी. कम है।
  2. यह नहरं यूरोप को हिन्द महासागर में एक नवीन प्रवेश मार्ग प्रदान करती है।
  3. इसे नहर के कारण एशिया तथा यूरोप के बीच व्यापार बढ़ने से वस्तुएँ सस्ती हुई हैं।
  4. इस नहर के खुल जाने से दक्षिण अफ्रीका का चक्कर काटकर आने-जाने की आवश्यकता नहीं रही।
  5. यह नहर मार्ग विश्व की घनी जनसंख्या वाले भागों के मध्य से:गुजरता है।
  6. इस नहर मार्ग पर बहुत अधिक देश स्थित हैं, जिनके द्वारा विभिन्न वस्तुओं का व्यापार होता है। इस नहर से पश्चिम से पूर्व की ओर निर्मित माल; जैसे– मशीनें, कपड़ा, दवाइयाँ व रासायनिक पदार्थ भेजे जाते हैं। इसके बदले में पूर्वी प्रदेश पश्चिमी भागों को कच्चा माल; जैसे-पटसन, गेहूँ, रेशम, चाय, नारियल, ऊन, माँस, टिन, रबर आदि भेजते हैं।
  7. उत्तरी अमेरिका तथा यूरोप से विभिन्न एशियाई देशों को जाने वाले जलयान इसी मार्ग से गुजरते हैं।
  8. इस मार्ग पर कई उत्तम बंदरगाह स्थित हैं।
  9. यह नहर तीन महाद्वीपों के केन्द्र पर स्थित है। यहाँ यूरोप, अफ्रीका व एशिया महाद्वीप के लिए जल मार्ग निकलते हैं।

पनामा नहर का व्यापारिक महत्व: पनामा नहर मध्य अमेरिका के पनामा देश में स्थित है। यह नहर पनामा जलडमरूमध् को काटकर बनायी गयी है। इस नहर का व्यापरिक महत्व निम्नलिखित कारणों से है –

  1. इस नहर के निर्माण से हिन्द महासागर एवं प्रशान्त महासागर के बीच की दूरी कम हो गयी है। इस नहर से होकर जाने पर न्यूयार्क तथा सैन्फ्रांसिस्को के मध्य की दूरी हार्न अंतरीप की तुलना में 1600 किमी कम हो गई हैं। इसी प्रकार न्यू आर्लियन्स से सैन्फ्रांसिस्को के मध्य की दूरी में 9000 किमी तथा न्यूयार्क से सिडनी की दूरी में लगभग 6500 किमी की बचत होती है।
  2. इस नहर के निर्माण से सबसे अधिक लाभ संयुक्त राज्य अमेरिका को हुआ है। इससे पश्चिमी व पूर्वोत्तर से ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैण्ड, दक्षिण अमेरिका व जापान के बंदरगाहों की दूरी कम हो गयी है।
  3. इस नहर द्वारा व्यापार में बहुत अधिक वृद्धि हुई है। इसके द्वारा अन्ध महासागर एवं प्रशान्त हासागरों के तटीय देशों के बीच व्यापार बहुत बढ़ गया है।
  4. इस नहर की आर्थिक महत्व स्वेज नहर की अपेक्षा कम है। फिर भी दक्षिण अमेरिका की अर्थव्यवस्था में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है।
  5. इस नहर द्वारा कैलीफोर्निया से पेट्रोल, चिली से शोरा व ताँबा, चीन से चाय व रेशम, आस्ट्रेलिया व न्यूजीलैण्ड से मांस, मक्खन, पनीर व चमड़ा, पूर्वी अमेरिका से तैयार माल, कपड़ा, मशीनें, दवाइयाँ आदि महासागरीय देशों को भेजी जाती हैं।

प्रश्न 3.
उत्तरी अटलांटिक जलमार्ग के महत्व का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
उत्तरी अटलांटिक जलमार्ग विश्व का सबसे व्यस्ततम् सागरीय मार्ग है। इस सागरीय जलमार्ग के महत्व के संदर्भ में निम्नलिखित तथ्य उल्लेखनीय हैं –

  1. यह जलमार्ग औद्योगिक दृष्टि से विकसित विश्व के दो प्रदेशों-उत्तरी पूर्वी संयुक्त राज्य अमेरिका एवं पश्चिमी यूरोप को मिलाता है।
  2. इस जलमार्ग द्वारा विश्व को एक चौथाई विदेशी व्यापार होता है।
  3. यह विश्व को व्यस्ततम व्यापारिक जलमार्ग है जिस पर विश्व के लगभग 25 प्रतिशत समुद्री जहाज चाते हैं।
  4. इस जलमार्ग के दोनों किनारों पर पत्तनों एवं पोताश्रयों की उन्नत स्थिति उपलब्ध है। विश्व के 50 वृहत् समुद्री पन्तनों में से 30 समुद्री पत्तन इसी समुद्री मार्ग पर अवस्थित हैं।

प्रश्न 4.
विश्व के वायु परिवहन का महत्व बताते हुए किसी एक वायु परिवहन प्रकार का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
विश्व में वायु परिवहन का महत्व-विश्व में वायु परिवहन के महत्व के संदर्भ में निम्नलिखित तथ्य उल्लेखनीय हैं।

  1. वायु परिवहन सबसे तीव्र लेकिन महँगा परिवहन साधन है जिसके माध्यम से लम्बी दूरी को अल्प समय में तय कर लिया जाता है।
  2. महँगा परिवहन साधन होने के कारण वायुयानों द्वारा सामान्यतया हल्की, कीमती तथा शीघ्र खराब होने वाली वस्तुओं  को ही भेजा जाता है।
  3. ऐसे पहाड़ी क्षेत्रों को अन्य दुर्गम क्षेत्रों में जहाँ स्थले या जल परिवहन संभव नहीं हो, वहाँ छोटे वायुयान हैलीकॉप्टरों द्वारा यात्रियों तथा सामानों को शीघ्रता से पहुँचाया जा सकता है।
  4. पर्वतों, हिमक्षेत्रों अथवा विषम मरुस्थलीय भागों, पर्वतों में हिमस्खलन अथवा भारी हिमापत के कारण स्थलीय मार्ग अवरुद्ध हो जाते हैं। ऐसी दशा में वायु परिवहन ही इन क्षेत्रों में पहुंचने का एकमात्र विकल्प है।
  5. प्राकृतिक आपदाओं; जैसे-बाढ़, भूकम्प तथा युद्ध प्रभावित क्षेत्रों में राहत कार्यों के लिए वायु परिववहन सर्वार्धिक उपयोगी माना जाता है।

वायु मार्ग के प्रकार: विश्व में निम्नलिखित छ: प्रकार के वायुमार्ग मिलते हैं –

  1. अन्तर्महाद्वीपीय ग्लोबीय वायुमार्ग
  2. महाद्वीपीय वायुमार्ग
  3. राष्ट्रीय वायुमार्ग
  4. प्रादेशिक वायुमार्ग
  5. स्थानीय वायुमार्ग
  6. सैन्य तथा राजनैतिक महत्व की वायुयात्राओं के वायुमार्ग

1. अन्तर्महाद्वीपीय ग्लोबीय वायुमार्ग: एक महाद्वीप से दूसरे महाद्वीप में स्थित क्षेत्रों को आने-जाने के वायुमार्ग अन्तर्महाद्वीपीय ग्लोबीय वायुमार्ग कहलाते हैं। इस प्रकार के वायुमार्ग सबसे लम्बी यात्राओं के मार्ग हैं। उदाहरण के लिए –

  • न्यूयार्क-लंदन-पेरिस-रोम-काहिरा-दिल्ली-मुम्बई-कोलकाता-हांगकांग-टोकियो वायुमार्ग।
  • न्यूयार्क सेन फ्रांसिस्को-होनोलुलू-हांगकांग़-एडिलेड-पर्थ वायुमार्ग।

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 अन्य महत्त्वपूर्ण प्रश्नोत्तर

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 बहुचयनात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
पैन-अमेरिकन महामार्ग कहाँ से कहाँ तक जाता है?
(अ) अलास्का से ब्राजील तक
(ब) अलास्का से चिली तक
(स) अलास्का से अर्जेन्टाइना तक
(द) कनाडा से मेक्सिको तक

प्रश्न 2.
विश्व के किस देश में सर्वाधिक लम्बाई के सड़क एक्सप्रेस हाईवे हैं?
(अ) संयुक्त राज्य अमेरिका
(ब) फ्रांस
(स) कनाडा
(द) चीन

प्रश्न 3.
निम्नलिखित में से किस देश में महामार्गों का सर्वाधिक उच्च घनत्व है?
(अ) चीन
(ब) फ्रांस
(स) संयुक्त राज्य अमेरिका
(द) जापान

प्रश्न 4.
निम्नलिखित में से किस देश के महामार्ग प्रमुख नगरों को जोड़ते हुए क्रिस-क्रास करते हैं?
(अ) संयुक्त राज्य अमेरिका
(ब) चीन
(स) ब्राजील
(द) कनाडा

प्रश्न 5.
निम्न में से किस देश में प्रति वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में सड़कों की लम्बाई सर्वाधिक है?
(अ) भारत
(ब) जापान
(स) संयुक्त राज्य अमेरिका
(द) फ्रांस

प्रश्न 6.
निम्न में से किस महाद्वीप में विश्व का सघनतम रेल तंत्र पाया जाता है?
(अ) एशिया
(ब) अफ्रीका
(स) यूरोप
(द) उत्तरी अमेरिका

प्रश्न 7.
कौन-सा महाद्वीप रेलमार्ग विस्तार में प्रथम स्थान रखता है?
(अ) दक्षिणी अमेरिका
(ब) यूरोप
(स) एशिया
(द) उत्तरी अमेरिका

प्रश्न 8.
ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग कहाँ से कहाँ को जाता है?
(अ) व्लाडीवोस्टक से लेनिनग्राड
(ब) काहिरा से केपटाउन
(स) टोकिया से याकोहामा
(द) शिकागो से न्यूयार्क

प्रश्न 9.
ओरियंट एक्सप्रेस रेलमार्ग किस नगर से प्रारम्भ होकर कौन-से नगर तक पहुँचता है?
(अ) पेरिस से बर्लिन
(ब) पेरिस से मेड्रिड
(स) पेरिस से इस्तांबूल
(द) मास्को से शंघाई

प्रश्न 10.
जो नगर ट्रांस-साइबेरियन पर नहीं पड़ता है, वह है –
(अ) ब्लॉडीवोस्टक
(ब) लेनिनग्राद
(स) ओमाहा
(द) चिता

प्रश्न 11.
कनेडियन प्रशांत रेलवे चलती है –
(अ) एडमोन्टन तथा हेलीफैक्स के बीच
(ब) मान्ट्रियल तथा बैंकूवर के बीच
(स) ओटावा तथा प्रिन्स रूपर्ट के बीच
(द) हेलीफैवस तथा बैंकूवर के बीच

नोट: कनेडियन प्रशांत रेलमार्ग को पार कैनेडियन रेलमार्ग भी कहा जाता है।

प्रश्न 12.
आस्ट्रेलियन अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग कहाँ से कहाँ तक जाता है?
(अ) सिडनी से पर्थ
(ब) पर्थ से मेलबोर्न
(स) कालगुल से मेलबोर्न
(द) पोर्ट अगस्त से पर्थ

प्रश्न 13.
निम्न में से सर्वाधिक व्यस्त संचाल्य नदी है?
(अ) वोल्गा
(ब) सीन
(से) राइन
(द) डेन्यूब

प्रश्न 14.
विश्व का सबसे महत्वपूर्ण अन्तर्राष्ट्रीय आन्तरिक जलमार्ग कौन-सा है?
(अ) डेन्यूब
(ब) राइन
(स) वोल्गा
(द) यांग्टिसीक्यांग

प्रश्न 15.
विश्व का सर्वाधिक व्यस्त समुद्री व्यापारिक मार्ग है –
(अ) उत्तरी प्रशान्त मार्ग
(ब) उत्तरी अटलांटिक मार्ग
(स) दक्षिणी अटलांटिक मार्ग
(द) दक्षिणी प्रशान्त मार्ग

प्रश्न 16.
कथन (A) उत्तरी अटलांटिक महासागरीय पथ विश्व का सबसे महत्वपूर्ण महासागरीय पथ है। कारण (R) उत्तरी अटलांटिक महासागरीय पथ विकासशील तथा विकसित राष्ट्रों को एक-दूसरे के निकट लाता है। नीचे दिए गए कूटों की सहायता से सही उत्तर चुनें –
(अ) कथन A व कारण R दोनों सही हैं तथा R, A का सही स्पष्टीकरण है।
(ब) कथन A और कारण R दोनों सही हैं परन्तु R, A का सही स्पष्टीकरण नहीं है।
(स) A सही है परन्तु R गलत है।
(द) A गलत है परन्तु R सही है।

प्रश्न 17.
निम्न में से किस सागरीय मार्ग को वृहद ढूंक मार्ग कहा जाता है?
(अ) उत्तरी अटलांटिक समुद्री मार्ग
(ब) भूमध्य सागर-हिन्द महासागरीय समुद्री मार्ग
(स) उत्तमाशा अटलांटिक समुद्री मार्ग
(द) उत्तरी प्रशान्त समुद्री मार्ग

प्रश्न 18.
स्वेज नहर निम्नलिखित में से किसको जोड़ती है?
(अ) लाल सागर तथा मृतक सागर को
(ब) अटलांटिक सागर तथा भूमध्यसागर को
(स) अकाबा खाड़ी तथा भूमध्य सागर को
(द) लाल सागर तथा भूमध्य सागर को

प्रश्न 19.
पनामा नहर पनामा की खाड़ी को जोड़ती हैं –
(अ) डेरियन की खाड़ी से
(ब) हान्डुरास की खाड़ी से
(स) कम्पेचे की खाड़ी से
(द) टेहुआण्टेपेककी खाड़ी से

प्रश्न 20.
अटलांटिक तथा प्रशान्त महासागर जुड़े हुए हैं –
(अ) कील नहर द्वारी
(ब) स्वेज नहर द्वारा
(स) पनामा नहर द्वारा
(द) सू नहर द्वारा

प्रश्न 21.
जल, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस जैसे तरल व गैसीय पदार्थों हेतु उपयुक्त परिवहन का साधन है –
(अ) पाइपलाइन
(व) रेल
(स) हवाई जहाज
(द) ये सभी

प्रश्न 22.
‘बिग इंच’ पाइपलाइन के द्वारा परिवहित करता है –
(अ) दूध
(ब) जल
(स) तरल पेट्रोलियम गैस
(द) पेट्रोलियम

प्रश्न 23.
तापी (TAPI) परियोजना से सम्बन्धित क्षेत्र है –
(अ) तुर्कमेनिस्तान-भारत
(ब) अफगानिस्तान तथा पाकिस्तान
(स) भारत तथा तुर्कमेनिस्तान
(द) अफगानिस्तान-पाकिस्तान तथा भारत
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-6
सुमेलन सम्बन्धी प्रश्न

निम्न में स्तम्भ अ का स्तम्भ ब से सुमेलित कीजिए।

स्तम्भ (अ)
(रेललाइन)
स्तम्भ (ब)
(पटरी के बीच दूरी)
(i) ब्रॉडगेज(अ) (1 मी०)
(ii) मीटरगेज(ब) (0.762 मी०)
(iii) नैरोगेज(स) (0.610 मी०)
(iv) लिफ्टगेज(स) (1.676 मी०)

उत्तर:
(i) (द) (ii) (अ), (iii) (ब) (iv) (स)

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
परिसंचरण से क्या आशय है?
उत्तर:
परिवहन तथा संचार को सम्मिलित रूप से परिसंचरण कहा जाता है।

प्रश्न 2.
परिवहन के प्रमुख साधन कौन-कौन से ते हैं?
अथवा
विश्व परिवहन की विधाएँ कौन-कौन सी हैं?
उत्तर:
1. स्थल परिवहन
2. जल परिवहन
3. वायु परिवहन
4. पाइपलाइन परिवहन

प्रश्न 3.
परिवहन जाल किसे कहा जाता है?
उत्तर:
किसी प्रदेश की परिवहन व्यवस्था के क्षेत्रीय प्रतिरूप को परिवहन जाल कहा जाता है।

प्रश्न 4.
स्थलीय परिवहन को कितने भागों में बांटा गया है?
उत्तर:
स्थलीय परिवहन को दो भागों में बांटा गया हैं – सड़क परिवहन व रेल परिवहन।

प्रश्न 5.
छोटी दूरियों के लिए रेल परिवहन की अपेक्षा आर्थिक दृष्टि से कौन-सा साधन लाभदायक रहता है?
उत्तर:
सड़क परिवहन।

प्रश्न 6.
सड़क घनत्व किसे कहते हैं?
उत्तर:
किसी क्षेत्र के अन्दर प्रति 100 वर्ग किलोमीटर में पायी जाने वाली सड़कों के जाल को सड़क घनत्व कहते हैं।

प्रश्न 7.
विश्व में सर्वाधिक सड़क घनत्व तथा सर्वाधिक वाहन किस महाद्वीप में हैं?
उत्तर:
उत्तरी अमेरिका महाद्वीप में।

प्रश्न 8.
महामार्ग क्या होते हैं?
उत्तर:
महामार्ग दूरस्थ स्थानों को जोड़ने वाली पक्की सड़कें होती हैं। जिनका निर्माण इस प्रकार किया जाता है कि निर्बाध रूप से यातायात का आवागमन हो सके।

प्रश्न 9.
अलास्का महामार्ग किन नगरों को आपस में जोड़ता है?
उत्तर:
अलास्का महामार्ग कनाडा के एडमान्टन नगर को अलास्का के ऐकोरेज नगर से जोड़ता है।

प्रश्न 10.
स्टुअर्ट महामार्ग के प्रारम्भिक व अंतिम स्टोशनों के नाम लिखिए।
उत्तर:
स्टुअर्ट महामार्ग उत्तरी आस्ट्रेलिया के बिटुम को दक्षिण आस्ट्रेलिया के ऊनादत्ता से जोड़ता है।

प्रश्न 11.
चीन द्वारा तिब्बत क्षेत्र में निर्मित किए गए। नवीन महामार्ग का नाम लिखिए।
उत्तर:
चेगंडू-ल्हासा महामार्ग चीन द्वारा तिब्बत क्षेत्र में निर्मित किया गया नवीन महामार्ग है।

प्रश्न 12.
पक्की सड़कों की लम्बाई की दृष्टि से भारत का विश्व में कौन-सा स्थान है?
उत्तर:
पक्की सड़कों की लम्बाई की दृष्टि से भारत का विश्व में तीसरा स्थान है।

प्रश्न 13.
भारत में कितने राष्ट्रीय राजमार्ग हैं?
उत्तर:
भारत में कुल 230 राष्ट्रीय राजमार्ग हैं।

प्रश्न 14.
भारत में निर्माणाधीन स्वर्णिम चतुर्भुज द्रुत मार्गों के द्वारा कौन-कौन से शहरों को आपस में जोड़ने की योजना है?
उत्तर:
नई दिल्ली-मुम्बई-बेंगलूरु-चेन्नई-कलकत्ता व हैदराबाद को।

प्रश्न 15.
सीमावर्ती सड़कें क्या होती हैं?
उत्तर:
अन्तर्राष्ट्रीय सीमाओं के सहारे निर्मित की गयी सड़कों को सीमावर्ती सड़कें कहा जाता है। ये सड़कें सुदूर क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को प्रमुख नगरों से जोड़ने तथा प्रतिरक्षा प्रदान करने में महत्त्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं।

प्रश्न 16.
विश्व की पहली रेलगाड़ी कहाँ से कहाँ तक चली थी?
उत्तर:
विश्व की पहली रेलगाड़ी इंग्लैण्ड के ऑर्कटन व डार्लिंगटन के मध्य चली थी।

प्रश्न 17.
भारत में प्रथम रेल कब व कहाँ चली थी?
उत्तर:
भारत में पहली रेल 1853 में मुम्बई से ठाणे की बीच चली थी।

प्रश्न 18.
रेल लाइनों की चौड़ाई के अनुसार रेल लाइनों को वर्गीकृत कीजिए।
उत्तर:
रेल लाइनों की चौड़ाई (गेज) के आधार पर रेल लाइनों के निम्नलिखित चार वर्ग हैं –

  1. बड़ी लाइन (1.67 मीटर)
  2. मीटर लाइन (1.0 मीटर)
  3. लिफ्टगेज (0.610 मीटर)
  4. नैरोगेज (0.762 मीटर)

प्रश्न 19.
विश्व में मानक लाइन (1.44 मीटर) का उपयोग किस देश में किया जाता है?
उत्तर:
ब्रिटेन में।

प्रश्न 20.
विश्व के किस देश में सघनतम रेल तन्त्र मिलता है? ।
उत्तर:
विश्व में सर्वाधिक (6.5 वर्ग किमी क्षेत्रफल पर 1 किमी) रेल घनत्व यूरोप महाद्वीप के बेल्जियम देश में मिलता है।

प्रश्न 21.
रेलमार्गों की सर्वाधिक लम्बाई विश्व में किस देश में है?
उत्तर:
संयुक्त राज्य अमेरिका में सर्वाधिक लगभग 2.27 लाख किमी लम्बाई की रेल लाइनें हैं।

प्रश्न 22.
उस रेलमार्ग को किस नाम से जाना जाता है जो किसी महाद्वीप में से गुजरता है एवं उसके दो किनारों को जोड़ता है?
उत्तर:
पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग।

प्रश्न 23.
दक्षिणी अमेरिका में रेलमार्ग के दो सघन प्रदेशों के नाम बताइए।
उत्तर:
1. अर्जेन्टाइना का पंपास क्षेत्र।
2. ब्राजील का कॉफी उत्पादक प्रदेश।

प्रश्न 24.
एशिया के किन-किन देशों में रेलमार्गों का सघनतम घनत्व पाया जाता है?
उत्तर:
जापान, चीन एवं भारत में रेलमार्गों का सघनतम घनत्व पाया जाता है।

प्रश्न 25.
ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग की लम्बाई कितनी है?
उत्तर:
9560 किमी।

प्रश्न 26.
ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग की एक विशेषता बताइए।
उत्तर:
ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग दोहरे पथ से युक्त विद्युतीकृत पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग है।

प्रश्न 27.
ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग किन-किन प्रमुख शहरों से गुजरता है?
उत्तर:
सेंट पीटर्सबर्ग, मास्को, कजान, ट्यूमिन, नोवोसिबिर्क, चिता और खबरोवस्क, ब्लाडीवोस्टक आदि।

प्रश्न 28.
विश्व के सबसे लम्बे रेलमार्ग के अन्तिम सिरों के स्टेशनों के नाम लिखिए।
उत्तर:
पार साइबेरियन रेलमार्ग विश्व का सबसे लम्बा रेलमार्ग है जिसका पूर्वी स्टेशन ब्लाडीवोस्टक एवं पश्चिमी स्टेशन सेंट पिट्सबर्ग नगर है।

प्रश्न 29.
किन्हीं चार पार-महाद्वीपीय रेलमार्गों के नाम लिखिए।
उत्तर:
1. पार साइबेरियन रेलमार्ग।
2. पार कैनेडियन रेलमार्ग।
3. ओरिएंट एक्सप्रेस रेलमार्ग।
4. आस्ट्रेलियाई पार महाद्वीपीय रेलमार्ग।

प्रश्न 30.
केप काहिरा रेलमार्ग में किसको जोड़ने की योजना है?
उत्तर:
केप काहिरा रेलमार्ग में काहिरा को केपटाउन से जोड़ने की योजना प्रस्तावित है।

प्रश्न 31.
केप काहिरा रेलमार्ग की लम्बाई कितनी
उत्तर:
केप काहिरा रेलमार्ग की लम्बाई 14000 किमी है।

प्रश्न 32.
परिवहन का कौन-सा साधन भारी वस्तुओं को महाद्वीपों के मध्य लम्बी दूरी तक कम लागत पर ढोने के लिए उपयुक्त है?
उत्तर:
जल परिवहन।

प्रश्न 33.
जल परिवहन को कितने भागों में बाँटा जा सकता है?
उत्तर:
1. समुद्री मार्ग
2. आन्तरिक जलमार्ग।

प्रश्न 34.
यूरोप के किन्हीं दो आंतरिक जलमार्गों के नाम बताइए।
उत्तर:
1. राइन जलमार्ग
2. डेन्यूब जलमार्ग।

प्रश्न 35.
जर्मनी के सबसे महत्वपूर्ण आन्तरिक = जलमार्ग का नाम बताइए।
उत्तर:
जर्मनी का सबसे महत्वपूर्ण आन्तरिक जलमार्ग राइन है।

प्रश्न 36.
राइन नदी कहाँ से कहाँ तक नौकायन योग्य है?
उत्तर:
राइन नदी नीदरलैण्ड में रोटरडम में अपने मुहाने से लेकर स्विट्जरलैण्ड में बेसल तक 700 किमी. लम्बाई में नौकायन योग्य है।

प्रश्न 37.
वोल्गा जलमार्ग किस देश में स्थित है? इसकी लम्बाई लिखिए।
उत्तर:
वोल्गा जलमार्ग रूस में स्थित है। इसकी लम्बाई 11200 किमी है।

प्रश्न 38.
उत्तरी अमेरिका की कौन-सी वृहद् झीलें आन्तरिक जलमार्ग की सुविधा प्रदान करती हैं?
उत्तर:
सुपीरियर, यूरन, इरी तथा ओटांरियो नामक वृहद् झीलें सू तथा वलैण्ड नहर के द्वारा जुड़ी हैं तथा आंतरिक जलमार्ग की सुविधा प्रदान करती हैं।

प्रश्न 39.
विश्व के किन्हीं दो समुद्री मार्गों के नाम लिखिए।
उत्तर:
1. उत्तरी अटलांटिक समुद्री मार्ग।
2. भूमध्य सागर एवं हिंद महासागरीय समुद्री मार्ग।

प्रश्न 40.
उत्तरी अटलांटिक समुद्री मार्ग को वृहद् ट्रंक मार्ग क्यों कहा जाता है?
उत्तर:
उत्तरी अटलांटिक समुद्री मार्ग द्वारा विश्व का एक चौथाई विदेशी व्यापार होता है। इसी कारण यह विश्व का व्यस्ततम व्यापारिक जलमार्ग होने के कारण वृहद् ट्रंक मार्ग कहलाता है।

प्रश्न 41.
होनोलुलु किस सागरीय मार्ग का महत्त्वपूर्ण पत्तन है?
उत्तर:
होनोलूलू दक्षिणी प्रशान्त सागरीय मार्ग का महत्त्वपूर्ण पत्तन है।

प्रश्न 42.
पनामा नहर कहाँ से कहाँ तक जाती है?
उत्तर:
पनामा नहर पनामा नगर (प्रशान्त महासागर के तट पर स्थित) से कोलोन (अटलांटिक महासागर के तट पर स्थित) नगर तक जाती है।

प्रश्न 43.
स्वेज नहर का निर्माण कब और क्यों किया गया?
उत्तर:
स्वेज नहर का निर्माण सन् 1869 में मिस्र के उत्तर में पोर्ट सईद एवं दक्षिण में पोर्ट स्वेज के मध्य भूमध्य सागर तथा लाल सागर को जोड़ने के लिए किया गया।

प्रश्न 44.
किस जलमार्ग ने भारत एवं यूरोप के मध्य दूरी अत्यधिक कम कर दी है?
उत्तर:
स्वेज नहर जलमार्ग ने।

प्रश्न 45.
परिवहन का तीव्रतम साधन कौन-सा है?
उत्तर:
वायु परिवहन।

प्रश्न 46.
वर्तमान युग को हवाई युग क्यों कहा जाता
उत्तर:
बीसवीं शताब्दी के उत्तरार्द्ध से वायु या हवाई परिवहन का प्रचलन बहुत बढ़ गया इसी कारण वर्तमान युग को हवाई युग कहा जाता है।

प्रश्न 47.
किन्हीं दो महाद्वीपीय वायुमार्गों के नाम लिखिए।
उत्तर:
1. न्यूयार्क-शिकागो-मॉण्ट्रियल मार्ग।
2. दिल्ली-कोलकाता-हांगकांग-टोक्यो मार्ग।

प्रश्न 48.
पाइपलाइन का उपयोग पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस जैसी सामग्रियों के परिवहन करने के लिए क्यों होता है?
उत्तर:
क्योंकि पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस प्रवाहशील हैं तथा आसानी से पाइपलाइनों में बहकर एक स्थान से दूसरे स्थान तक चले जाते हैं।

प्रश्न 49.
विश्व में सबसे लम्बी प्रस्तावित पाइपलाइन कौन-सी है?
उत्तर:
प्रस्तावित ईरान-भारत वाया पाकिस्तान अन्तर्राष्ट्रीय तेल और प्राकृतिक गैस पाइपलाइन।

प्रश्न 50.
बिंग इंच क्या है?
उत्तर:
‘बिग इंच’ एक प्रसिद्ध पाइपलाइन है जो मेक्सिको की खाड़ी में स्थित तटीय तेल कुओं से उत्तरी-पूर्वी राज्यों तक तेल ले जाती है।

प्रश्न 51.
संचार के व्यक्तिगत साधन कौन-से हैं?
उत्तर:
संचार के व्यक्तिगत साधनों में पत्रादि, दूरभाष, मोबाइल, फैक्स, ई-मेल, इन्टरनेट, फेसबुक, ट्वीटर व वॉटसअप हैं।

प्रश्न 52.
संचार के सार्वजनिक साधनों के नाम लिखिए।
उत्तर:
रेडियो, टेलीविजन सिनेमा, जीपीएस, समाचर-पत्र, पत्रिकाएँ, उपग्रह, गोष्ठियाँ व सम्मेलन सार्वजनिक संचार के साधन हैं।

प्रश्न 53.
उपग्रह संचार से क्या तात्पर्य है?
उत्तर:
अतंरिक्ष में छोड़े गये कृत्रिम उपग्रहों की सहायता से प्राप्त सूचनाओं से सम्बन्धी संचार के साधन को उपग्रह संचार कहते हैं।

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 लघूत्तरात्मक प्रश्न (SA-1)

प्रश्न 1.
परिवहन के कौन-कौन से साधन हैं? संक्षेप में बताइए।
उत्तर:
परिवहन के चार साधन हैं, जो निम्नलिखित हैं –

  1. स्थल
  2. जल
  3. वायु
  4. पाइपलाइन।

1. स्थल परिवहन: स्थल परिवहन में मुख्यत: निम्न को शामिल किया जाता है –

  • सड़क परिवहन: कम दूरी एवं एक स्थान से दूसरे स्थान तक सेवाएँ प्रदान करने में सड़क परिवहन सस्ता एवं तीव्रगामी साधन है।
  • रेल परिवहन: किसी देश के भीतर स्थूल पदार्थों की विशाल मात्रा को लम्बी दूरियों तक परिवहन करने के लिए रेल सर्वाधिक अनुकूल साधन है।

2. जल परिवहन: यह साधन भारी वस्तुओं को महाद्वीपों के मध्य लम्बी दूरी तक कम लागत पर ढोने के लिए उपयुक्त है।
3. वायु परिवहन: उच्च मूल्य वाली, हल्की एवं नाशवान वस्तुओं का वायुमार्गों द्वारा परिवहन सर्वश्रेष्ठ होता है।
4. पाइपलाइन: जल, पेट्रोलियम ब प्राकृतिक गैस जैसे तरल पदार्थों के परिवहन के लिए पाइपलाइन परिवहन सर्वोत्तम होता है।

प्रश्न 2.
विकसित व विकासशील देशों में सड़कों की गुणवत्ता में अन्तर क्यों मिलता है?
उत्तर:
विकसित देशों में आर्थिक स्वरूप उन्नत होने के कारण सड़कें बनाने में गुणवत्ता पूर्ण सामग्री व उन्नत विधियों का प्रयोग किया जाता है जबकि विकासशील राष्ट्र में सड़क निर्माण के दौरान उच्च गुणवत्ता व तकनीक का प्रयोग नहीं हो पाता है। इसी कारण विकसित व विकासशील राष्ट्रों की सड़कों की गुणवत्ता में अन्तर मिलता है।

प्रश्न 3.
महामार्ग क्या होते हैं? इनकी प्रमुख विशेषताएँ लिखिए।
उत्तर:
महामार्ग-दूरस्थ स्थानों को जोड़ने वाली पक्की सड़कें महामार्ग कहलाती हैं। विशेषताएँ –

  1. महामार्गों का निर्माण इस प्रकार से किया जाता है कि निर्बाध रूप से यातायात का आवागमन हो सके।
  2. यातायात के अबाधित प्रवाह की सुविधा के लिए इसके अन्तर्गत अलग-अलग यातायात लेन बनाए जाते हैं।
  3. महामार्ग पुलों, फ्लाईओवरों एवं दोहरे वाहन मार्गों से युक्त होते हैं।
  4. महामार्ग 80 मीटर चौड़ी सड़कें होती हैं।
  5. विकसित देशों में महामार्ग प्रत्येक नगर एवं बन्दरगाह नगर से जुड़े होते हैं।

प्रश्न 4.
उत्तरी अमेरिका के महामार्गों की विशेषताएँ बताइए।
उत्तर:

  1. उत्तरी अमेरिका में महामार्गों का घनत्व उच्च है जो लगभग 0-65 किमी प्रतिवर्ग किमी है।
  2. प्रत्येक स्थान महामार्गों से 20 किमी की दूरी पर स्थित है।
  3. पश्चिमी प्रशांत महासागरीय तट पर स्थित नगर पूर्व में अटलांटिक महासागरीय तट पर स्थित नगरों से भली प्रकार जुड़े हुए हैं।
  4. उत्तर में कनाडा के नगर दक्षिण में मैक्सिको के नगरों से जुड़े हुए हैं।
  5. ट्रांस-कनाडियन महामार्ग, अलास्का राजमार्ग एवं पान-अमेरिका महामार्ग प्रमुख महामार्ग हैं।

प्रश्न 5.
यूरोप के रेल परिवहन की विशेषताओं का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
यूरोप के रेल परिवहन की निम्न विशेषताएँ हैं –

  1. यूरोप के रेलमार्ग आधुनिक तकनीक से निर्मित हैं।
  2. रेलमार्ग दोहरे मार्गों व विद्युत संचालित स्वरूप को दर्शाते हैं।
  3. यूरोपियन रेलमार्गों में भूमिगत रेलमार्ग भी दृष्टिगत होते हैं।
  4. रेलमार्ग मुख्यतः औद्योगिक स्थानों से संलग्न मिलते हैं।
  5. यूरोपियन रेलमार्ग मुख्य शहरों; जैसे-लन्दन, पेरिस, ब्रुसेल्स, मिलान, बर्लिन तथा वारसा आदि को संयोजित करते हैं।
  6. इंग्लैण्ड में यूरो टनल ग्रुप द्वारा संचालित सुरंग मार्ग लन्दन को पेरिस से जोड़ता है।

प्रश्न 6.
दक्षिणी अमेरिका के रेलमार्गों पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
दक्षिणी अमेरिका के निम्नलिखित दो प्रदेशों में रेलमार्गों की सघनता मिलती है –

  1. अर्जेन्टाइना का पम्पास प्रदेश।
  2. ब्राजील का कॉफी उत्पादक प्रदेश।

उक्त दोनों प्रदेशों में दक्षिणी अमेरिश के कुल रेलमार्गों का 40 प्रतिशत भाग मिलता है। अर्जेन्टाइना व ब्राजील के बाद चिली नामक देश में महत्वपूर्ण लम्बाई के रेलमार्ग हैं जो तटीय केन्द्रों को देश के आन्तरिक भागों में स्थित खनन क्षेत्रों से जोड़ते हैं। पेरू, बोलीविया, इक्वोडोर, कोलम्बिया तथा वेनेजुएला में छोटे एकल मार्ग वाली रेल लाइनें हैं। दक्षिणी अमेरिका में केवल एक पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग है जो एंडीज पर्वतों के 3900 मीटर ऊँचाई वाले पर्वतीय भाग पर अवस्थित उसप्लाटा दरें से होकर अर्जेन्टाईना के ब्यूनस आयर्स को वालपैराइजो से मिलाता है।

प्रश्न 7.
अफ्रीका के प्रमुख रेलमार्गों के नाम लिखिए।
उत्तर:
अफ्रीका के प्रमुख रेलमार्गों में बेगुएला रेलमार्ग (अंगोला-कटंगा), तंजानिया रेलमार्ग (जांबिया ताम्रपेटी से . दार-ए-सलाम तक), बोत्सवाना और जिम्बाब्वे होते हुए रेलमार्ग से स्थलबद्ध राज्यों को दक्षिणी अफ्रीकी रेलतंत्र से जोड़ता है। दक्षिणी अफ्रीका गणतंत्र में केपटाउन से प्रिटोरिया तक ब्लू ट्रेन मार्ग प्रमुख है।

प्रश्न 8.
पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग क्या होते हैं? विश्व के पाँच प्रमुख पारमहाद्वीपीय रेलमार्गों के नाम लिखिए।
उत्तर:
पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग पूरे महाद्वीप से गुजरते हुए महाद्वीप के दोनों छोरों को जोड़ते हैं तथा इनका निर्माण आर्थिक व राजनीतिक कारणों से विभिन्न दिशाओं में लम्बी यात्राओं की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए किया जाता है। विश्व के पाँच पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग –

  1. ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग।
  2. कैनेडियन पैसिफिक रेलमार्ग।
  3. संयुक्त राज्य अमेरिका का उत्तरी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।
  4. संयुक्त राज्य अमेरिका का मध्य अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।
  5. आस्ट्रेलियन अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।

प्रश्न 9.
संयुक्त राज्य अमेरिका के दक्षिणी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
यह रेलमार्ग न्यूयार्क से न्यूआलियंस होते हुए प्रशान्त माहसागर के तट पर स्थित लास एंजिल्स नगर तक जाता है। यह मार्ग संयुक्त राज्य की प्रमुख औद्योगिक पेटी के मध्य से होकर जाता है जिससे इसका विशिष्ट महत्व है। यहाँ लॉस एंजिल्स नगर फिल्म उद्योग के लिए विश्व प्रसिद्ध है।

प्रश्न 10.
जल परिवहन के प्रमुख लाभों का उल्लेख कीजिए।
उत्तर:
जल परिवहन के प्रमुख लाभ निम्नवत् हैं –

  1. जल परिवहन के लिए मार्गों का निर्माण नहीं करना पड़ता है इसी कारण जल मार्गों के निर्माण एवं रखरखाव पर किसी। प्रकार का कोई विशेष धन व्यय नहीं करना पड़ता।
  2. जल परिवहन अन्य परिवहनों की तुलना में सस्ता होता है; क्योंकि जल का घर्षण स्थल की अपेक्षा बहुत कम होता है।
  3. सामान्यतया सस्ते तथा भारी पदार्थ; जैसे-कोयला, लौह अयस्क, लौह-इस्पात, सीमेन्ट तथा अनाज आदि को ढोने के लिए जल परिवहन का उपयोग किया जाता है।
  4. जल परिवहन की ऊर्जा लागत अन्य परिवहनों प्रारूपों की तुलना में कम होती है।
  5. जल परिवहन में छोटे आकार से लेकर बहुत बड़े आकार के जलयानों का संचालन किया जा सकता है।

प्रश्न 11.
विश्व के आन्तरिक जलमार्गों के विकास पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
महाद्वीपीय या स्थलीय भागों में स्थित नदियाँ तथा झीलें विश्व में आन्तरिक जलमार्ग के प्रमुख साधन हैं। आन्तरिक जलमार्गों का विकास नहरों की नौगम्यता, चौड़ाई-गहराई, जल-प्रवाह की निरन्तरता व प्रयुक्त परिवहन तकनीक पर निर्भर करता है। आन्तरिक जलमार्गों के लिए ऐसी नदियाँ तथा झीलें उपयुक्त मानी जाती हैं, जिनमें –

  1. वर्षपर्यन्त पर्याप्त जल रहता है।
  2. जल की पर्याप्त गहराई होती है।
  3. तली का ढाल धीमा होता है।
  4. नदियों का जल गादमुक्त रहता है।

यही कारण है कि विश्व के जिन भागों में पर्याप्त जल प्रवाह वाली बड़ी-बड़ी नदियाँ मिलती हैं, उनका उपयोग जल परिवहन हेतु किया जाता है।

प्रश्न 12.
राइन जलमार्ग का संक्षिप्त वर्णन दीजिए।
उत्तर:
राइन नदी-जलमार्ग विश्व का व्यस्ततम् नदी जलमार्ग है। यह नदी जर्मनी व नीदरलैण्ड देशों से होकर प्रवाहित होती है। यह जलमार्ग स्विट्जरलैण्ड, जर्मनी, फ्रांस, बेल्जियम व नीदरलैण्ड के औद्योगिक क्षेत्रों को अटलांटिक सागरीय मार्ग से जोड़ता है। यह नदी 700 किमी तक नौकायान योग्य है। राइन नदी की सहायक रूर नदी पूर्व में स्थित सम्पन्न कोयला क्षेत्रों से प्रवाहित होती हुई राइन नदी में मिल जाती है।

प्रश्न 13.
राइन नदी जलमार्ग विश्व का अत्यधिक प्रयोग में लाया जाने वाला जलमार्ग क्यों है? कारण स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
राइन नदी जलमार्ग के अत्यधिक प्रयुक्त होने के निम्न कारण हैं –

  1. इस जलमार्ग के समीपवर्ती भागों में अत्यधिक सम्पन्न खनन क्षेत्र हैं।
  2. यह मार्ग स्विट्जरलैण्ड, जर्मनी, फ्रांस, बेल्जियम व नीदरलैण्ड के औद्योगिक क्षेत्रों को जोड़ता है।
  3. परिवहन योग्य दशा होने के कारण प्रतिवर्ष 20,000 से अधिक समुद्री जलयान इस मार्ग से गुजरते हैं।
  4. स्विट्जरलैण्ड से रोटरडम तक 700 किमी क्षेत्र परिवहन योग्य है।

प्रश्न 14.
स्वेज नहर की कोई चार विशेषताएँ बताइए।
उत्तर:
स्वेज नहर का निर्माण 1869 ई. में मिस्र के उत्तर में पोर्ट सईद एवं दक्षिण में स्थित पोर्ट स्वेज के मध्य भूमध्य सागर तथा लाल सागर को जोड़ने हेतु किया गया है। इस नहर की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित हैं –

  1. यह नहर यूरोप को हिन्द महासागर में एक नवीन प्रवेश मार्ग प्रदान करती है।
  2. यह नहर लगभग 162 किमी लम्बी, औसत चौड़ाई 60 मीटर व औसत गहराई 10 मीटर है।
  3. इस नहर में प्रतिदिन 100 से अधिक जलयाने आवागमन करते हैं।
  4. इस नहर मार्ग से लिवरपूल एवं कोलम्बो के मध्य की प्रत्यक्ष सागरीय दूरी उत्तमाशी अन्तरीप मार्ग की तुलना में लगभग 1600 किमी दूरी की बचत होती है।

प्रश्न 15.
पनामा नहर की कोई चार विशेषताएँ लिखिए।
उत्तर:
पनामा नहर पूर्व में अटलांटिक महासागर को पश्चिम में प्रशान्त महासागर से जोड़ती है। इन नहर की प्रमुख विशेषताएँ निम्नलिखित हैं –

  1. यह नहर 82 किमी लम्बी है।
  2. इस नहर में कुल छः जलबंधक तंत्र हैं।
  3. इस नहर मार्ग से जाने पर न्यूयार्क तथा सैनफ्रांसिस्को के मध्य की दूरी में लगभग 13000 किमी की कमी आई है।
  4. दक्षिणी अमेरिका की अर्थव्यवस्था में इसे नहर की महत्वपूर्ण भूमिका है।

प्रश्न 16.
परिवहन के क्षेत्र में वायु परिवहन के महत्व को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
परिवहन के क्षेत्र में वायु परिवहन का महत्त्व निम्नलिखित कारणों से है –

  1. वायु परिवहन अन्य परिवहनों की तुलना में यद्यपि महँगा है लेकिन यह सभी परिवहन साधनों में तीव्रतम है।
  2. तीव्रतम साधन होने के कारण यह लम्बी दूरी की यात्रा के लिए सबसे लोकप्रिय परिवहन साधन है।
  3. इसके द्वारा मूल्यवान व हल्की वस्तुओं को कम समय में लम्बी दूरियों तक भेजा जा सकता है।
  4. पर्वतीय क्षेत्र, हिम क्षेत्र तथा विषम मरुस्थलीय भागों को वायु परिवहन द्वारा बिना किसी अवरोध के पार किया जाता है तथा ऐसे क्षेत्रों में वायु परिवहन ही परिवहन का एकमात्र विकल्प है।
  5. प्राकृतिक आपदाओं में; जैसे-बाढ़, भूकम्प तथा युद्ध आदि राहत कार्यों में वायु परिवहन सर्वाधिक उपयोगी है।

प्रश्न 17.
पाइपलाइन परिवहन के बारे में आप क्या जानते हैं? संक्षेप में बताइए।
उत्तर:
पाइपलाइन परिवहन-पाइपलाइनों का सर्वप्रमुख उपयोग जल, पेट्रोलियम तथा प्राकृतिक गैस जैसे तरल व गैसीय पदार्थों के अबाधित परिवहन के लिए किया जाता है। विश्व के अनेक भागों में खाना पकाने की गैस (एल.पी.जी.) की आपूर्ति पाइपलाइनों के माध्यम से की जाती है। पानी के साथ कोयले को मिलाकर निर्मित तरलीकृत कोयले का परिवहन भी पाइपलाइनों के माध्यम से होता है। न्यूजीलैण्ड के फार्मों से डेयरी उद्योगों तक दूध की आपूर्ति पाइपलाइनों के माध्यम से ही की जाती है।

संयुक्त राज्य अमेरिका के तेल उत्पादक क्षेत्रों से उपभोग क्षेत्रों के मध्य पाइपलाइनों का सघन जाल मिलता है। इनमें सबसे प्रसिद्ध पाइपलाइन ‘बिग इंच’ है जो मैक्सिको की खाड़ी के तटीय कुंओं से प्राप्त तेल को उत्तरी-पूर्वी राज्यों तक पहुँचाती है। यूरोप, पश्चिमी एशिया, रूस तथा भारत में पाइपलाइनों का उपयोग तेल के कुओं को तेल शोधनशालाओं तथा आन्तरिक बाजारों से जोड़ने के लिए किया जाता है। मध्य एशिया के देश तुर्कमेनिस्तान से पाइपलाइन को ईरान तथा चीन के कुछ भागों तक बढ़ा दिया गया है। प्रस्तावित ईरान-पाकिस्तान-भारत तेल व गैस पाइपलाइन निर्माण पूरा होने पर यह विश्व की सबसे लम्बी पाइपलाइन होगी।

प्रश्न 18.
उपग्रह संचार पर संक्षिप्त टिप्पणी लिखिए।
उत्तर:
सन् 1970 के बाद से संयुक्त राज्य अमेरिका तथा पूर्व सोवियत संघ द्वारा अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में की जा रही महत्त्वपूर्ण शोधों ने उपग्रह संचार के क्षेत्र में एक नवीन युग का सूत्रपात किया है। पृथ्वी की कक्षा से सफलतापूर्वक कृत्रिम उपग्रहों का प्रेक्षण किया गया है, इससे ग्लोब के उन दूरस्थ भागों को भी कृत्रिम उपग्रहों के माध्यम से जोड़ दिया गया जहाँ मानवीय पहुँच दुष्कर थी। उपग्रह संचार तकनीक के प्रयोग द्वारा संचारे में लगने वाले मूल्य तथा समय को काफी सीमा तक कम कर दिया गया है। इसका आशय यह है कि 500 किमी की दूरी तक संचार में लगने वाली लागत उपग्रह संचार द्वारा 5000 किमी की दूरी तक लगने वाली संचार लागत के बराबर है।

प्रश्न 19.
उपग्रह विकास के क्षेत्र में भारत द्वारा उठाए गए कदमों का संक्षेप में विवरण कीजिए।
उत्तर:
उपग्रह विकास के क्षेत्र में भारत द्वारा महत्त्वपूर्ण कदम उठाये गये हैं। सन् 1979 में आर्यभट्ट व भास्कर-1 का तथा सन् 1980 में रोहिणी उपग्रह का प्रक्षेपण हुआ। 18 जून, 1981 को एप्पल (एरियन पैसेन्जर पे लोड एक्सपेरीमेंट) का प्रक्षेपण एरियन रॉकेट द्वारा किया गया। भास्कर, चैलेन्जर तथा इन्सेट-1बी नामक उपग्रहों के प्रक्षेपण ने लम्बी दूरी के संचार, दूरदर्शन तथा रेडियो को अत्यधिक प्रभावी बना दिया है।

प्रश्न 20.
साइबर स्पेस वैश्विक ग्राम की संकल्पना को साकार करने में कैसे सार्थक सिद्ध होगा?
अथवा
आधुनिक संचार के साधनों ने वैश्विक ग्राम की संकल्पना को किस प्रकार साकार किया है?
उत्तर:
वर्तमान में करोड़ों लोग प्रति वर्ष इन्टरनेट का प्रयोग करते हैं। साइबर स्पेस लोगों के समकालीन आर्थिक और सामाजिक कार्यों को ई-मेल, ई-वाणिज्य, ई-शिक्षा और ई-प्रशासन के माध्यम से विस्तृत करेगा। फैक्स, टेलीविजन और रेडियो के साथ इन्टरनेट समय और स्थान की सीमाओं को लांघते हुए अधिक से अधिक लोगों तक पहुँचेगा। ये आधुनिक संचार प्रणलियाँ हैं, जिन्होंने परिवहन से कहीं ज्यादा वैश्विक ग्राम की संकल्पना को साकार किया है।

प्रश्न 21.
संचार के नवीन स्वरूपों के रूप में उपग्रह संचार का विकास कैसे हो रहा है?
उत्तर:
जैसे-जैसे तकनीकी का विकास हो रहा है तथा सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से संचार पर लगाए प्रतिबन्ध समाप्त हो रहे हैं, निजी व्यावसयिक कम्पनियाँ, शैक्षणिक संस्थान तथा सरकार द्वारा सूचनाओं तथा उपग्रह चित्रों का उपयोग असैनिक क्षेत्रों जैसे नगरीय नियोजन, प्रदूषण नियन्त्रण, वन विनाश (वनोन्मूलन) से प्रभावित क्षेत्रों को ढूंढ़ना तथा सैकड़ों भौतिक प्रतिरूपों एवं प्रक्रमों को पहचानने हेतु किया जा रहा है। इस प्रक्रिया से संचार के नवीन स्वरूप के रूप में उपग्रह संचार विकसित हो रहा है।

प्रश्न 22.
परिवहन और संचार में अन्तर स्पष्ट कीजिए। उत्तर-परिवहन और संचार में अग्रलिखित अंतर हैं

परिवहनसंचार
1. यात्रियों एवं उपयोगी वस्तुओं को एक स्थान से दूसरे स्थान तक साधनों के माध्यम से भेजने की प्रक्रिया को परिवहन कहते हैं।1. संदेशों और विचारों को विभिन्न माध्यमों से आदान-प्रदान करने की प्रक्रिया संचार कहलाती है।
2. सड़कें, रेलमार्ग, जलमार्ग, वायुमार्ग एवं पाइपलाइन परिवहन के प्रारूप हैं।2. टेलीफोन, मोबाइल, तार, इंटरनेट, रेडियो, टेलीविजन आदि संचार के साधन हैं।

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 लघूत्तरात्मक प्रश्न (SA-II)

प्रश्न 1.
परिवहन के महत्व को स्पष्ट कीजिए।
अथवा
परिवहन की प्रक्रिया मानव के लिए किस प्रकार उपयोगी है?
उत्तर:
परिवहन एक उत्पादक क्रिया है जिसके द्वारा वस्तुओं तथा व्यक्तियों का एक स्थान से दूसरे स्थान तक पहुँचाने के पारिश्रमिक के रूप में आय प्राप्त होती है। परिवहन का उत्पादन मूल्य माल-भाड़ा अथवा यात्री भाड़ा के रूप में प्राप्त होता है। परिवहन के कारण ही विभिन्न प्रकार के साधनों का निर्माण होता है। इन साधनों में नाव, स्टीमर, जलपोत, रिक्शा, ताँगा, बस, टैक्सी, टूक, हवाई जहाज, हैलिकॉप्टर प्रमुख हैं।

परिवहन की प्रक्रिया में आने वाला सुधार संचार के साधनों का भी विकास करता है। परिवहन के विकास के कारण ही यात्राएँ पूरी करने में भारी सहायता मिल रही है। परिवहन की प्रक्रिया ने पृथ्वी पर लम्बी दूरी पर स्थित क्षेत्रों को समीपस्थ बना दिया है। वर्तमान में व्यापारिक प्रक्रियाओं व औद्यागिक विकास हेतु परिवहन एवं इसके साधन महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। वर्तमान में विकास का जो स्वरूप देखने को मिलता है। उसमें परिवहन की अहम् भूमिका है। इस प्रकार परिवहन का महत्व स्पष्ट हो जाता है।

प्रश्न 2.
केप काहिरा रेलमार्ग के महत्व को स्पष्ट कीजिए।
अथवा
अफ्रीका के संदर्भ में केप-काहिरा रेलमार्ग की उपयोगिता को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
केप-काहिरा रेलमार्ग अफ्रीका का एक प्रायद्वीप प्रस्तावित अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग है। यह अफ्रीका के उत्तरी भाग को अफ्रीका के दक्षिणी भाग से संयोजित करेगा। इस रेलमार्ग के द्वारा अफ्रीकी महाद्वीप के अनेक राष्ट्रों को संयोजित किया जायेगा। यह रेलमार्ग अनेक खनन क्षेत्रों के लिए आधार प्रदान करने वाला साबित होगा। इस रेलमार्ग के विकसित होने से अफ्रीका के घने जंगलों, ऊँचे-नीचे पहाड़ी क्षेत्रों व अत्यंत पिछड़े क्षेत्रों में स्थलीय यातायात की सुविधा का विकास होगा।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-7
इस रेलमार्ग की कुल लम्बाई 14000 किमी होगी जो अफ्रीका के लिए महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगी। इस प्रस्तावित रेलमार्ग के पूर्ण रूप से तैयार हो जाने पर उत्तर से दक्षिण के अफ्रीकी भू-भाग परस्पर सम्बद्ध हो जायेंगे और इनके आर्थिक विकास में सहायता मिलेगी। केप-काहिरा रेलमार्ग का मानचित्र संलग्न है।

प्रश्न 3.
भूमध्य सागर व हिन्द महासागरीय जलमार्ग को स्पष्ट कीजिए।
अथवा
भूमध्य सागर व हिन्द महासागरीय जलमार्ग के महत्व को स्पष्ट कीजिए।
उत्तर:
भूमध्य सागर एवं हिन्द महासागर जलमार्ग–यह संसार का सबसे लम्बा व्यापारिक मार्ग है। यह संसार के मध्य भाग से होकर जाता है। संसार के सबसे बड़े थल भाग तथा संसार की अधिकतम जनसंख्या की सेवा करता है। यह रेलमार्ग विश्व की लगभग 75 प्रतिशत जनसंख्या की सेवा करता है। यह समुद्री मार्ग प्राचीन विश्व के हृदय स्थल’ कहे जाने वाले क्षेत्र से गुजरता है। पश्चिमी यूरोप के औद्योगिक देशों को भूमध्य सागरे, लाल सागर एवं हिन्द महासागर से होकर पूर्वी अफ्रीका, दक्षिण एशिया एवं आस्ट्रेलिया, न्यूजीलैण्ड की वाणिज्यिक कृषि तथा पशुपालन आधारित अर्थव्यवस्थाओं से जोड़ता है।

स्वेज नहर के निर्माण से पहले यह मार्ग लिवरपूल और कोलम्बो को जोड़ता था, जो स्वेज नहर मार्ग से 6400 किमी लम्बा था। सोना, हीरा, ताँबा, टीन, मूंगफली, चाय, कपास, कहवा, रबड़, शक्कर, फलों जैसे समृद्ध प्राकृतिक संसाधनों के कारण पूर्वी और पश्चिमी अफ्रीका के बीच व्यापार की मात्रा और यातायात में वृद्धि हो रही है। पोर्ट सईद, अदन, मुम्बई, कोचीन, कोलम्बो, एडिलेड आदि पत्तन इस जलमार्ग पर स्थित हैं।

प्रश्न 4.
संसार में मिलने वाले वायु मार्गों के प्रकारों का वर्णन कीजिए।
उत्तर:
संसार में मुख्यत: छ: प्रकार के वायुमार्ग मिलते हैं –

  1. अन्तर्महाद्वीपीय ग्लोबीय वायुमार्ग
  2. महाद्वीपीय वायुमार्ग
  3. राष्ट्रीय वायुमार्ग
  4. प्रादेशिक वायुमार्ग
  5. स्थानीय वायुमार्ग
  6. सैनिक महत्व के वायुमार्ग।

इन सभी वायुमार्ग प्रारूपों का वर्णन निम्नानुसार है –

1. अन्तर्महाद्वीपीय ग्लोबीय वायुमार्ग: सबसे लम्बी यात्राओं के मार्ग हैं; जैसे –

  • न्यूयार्क-लंदन-पेरिस-रोमकाहिरा-दिल्ली-मुम्बई-कोलकाता-हाँगकाँग-टोकियो वायुमार्ग। यह सबसे लम्बा वायुमार्ग है।
  • न्यूयार्क-सैन्फ्रांसिस्कोहोनोलुलु-हाँगकाँग-एडिलेड-पर्थ मार्ग जो प्रशान्त महासागर को पार करता है।

2. महाद्वीपीय वायुमार्ग: एक ही महाद्वीप के विभिन्न देशों के बीच वायुमार्ग; जैस –

  • न्यूयार्क-शिकागो-माँट्रियले मार्ग।
  • लंदन-पेरिस-फ्रेंकफर्ट-प्राग-वारसा मार्ग।
  • लंदन-फ्रेंकफर्ट-वारसा-मास्को वायुमार्ग।
  • दिल्ली-कोलकाताहाँगकाँग-टोकियो मार्ग।।

3. राष्ट्रीय वायुमार्ग: किसी भी देश के अन्दर दूरी की यात्राओं को तय करने के लिए; जैसे –

  • न्यूयार्कशिकागो-सेनफ्रांसिस्को मार्ग।
  • लेनिनग्राद-मास्को।
  • दिल्ली-कानपुर-पटना-कोलकाता मार्ग।

4. प्रादेशिक वायुमार्ग: किसी प्रदेश के अन्दर छोटी-छोटी यात्राओं को भी समय की बचत के लिए वायुयान द्वारा किया जाता है। धनी देशों में; जैसे-संयुक्त राज्य अमेरिका, पूर्व सोवियत संघ, जर्मनी, ब्रिटेन, जापान, कनाडा, आस्ट्रेलिया, आदि ने ऐसे प्रादेशिक वायुमार्गों का विकास हुआ है जो अधिकाधिक वृद्धि पर है।

5. स्थानीय वायुयान: स्थानीय वायु यात्राएँ प्रायः हेलीकॉप्टरों के द्वारा की जाती हैं।

6. सैनिक महत्व के वायुमार्ग: सैनिक, युद्ध कूटनीतिक तथा राजनीतिक महत्त्व की वायु यात्राओं के लिए सभी राष्ट्राध्यक्षों प्रशासनिक वर्गों की विभिन्न यात्राएँ विभिन्न प्रकार के वायुयानों हेलीकॉप्टरों आदि के द्वारा वायु यात्राएँ की जाती हैं।

प्रश्न 5.
सड़क परिवहन के गुण एवं दोषों का उल्लेख कीजिए।
उत्तर:
सड़क परिवहन के गुण एवं दोष निम्नानुसार हैं –
गुण:

  1. छोटी दूरी हेतु सड़क परिवहन तीव्र एवं सस्ता साधन है।
  2. यह परिवहन प्रारूप घर-घर सेवा प्रदाता साधन है।
  3. व्यापार व वाणिज्य को बढ़ाने में इनकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है।
  4. पर्यटन को बढ़ाने में इस प्रारूप का महत्वपूर्ण योगदान रहता है।

दोष:

  1. सड़कों के निर्माण पर पूँजी को अधिक व्यय होता है।
  2. कच्ची सड़कें दुर्घटनाओं का कारण बनती हैं।
  3. सड़कें सभी मौसमों में प्रयोग योग्य नहीं रहतीं।
  4. सड़कों पर यातायात संकुलता अनेक समस्याओं को उत्पन्न करती है।

प्रश्न 6.
रेल परिवहन के गुण एवं दोषों का संक्षिप्त विवरण दीजिए।
उत्तर:
रेल परिवहन के गुण एवं दोष निम्नानुसार हैं –
गुण:

  1. दैनिक आवागमन हेतु सर्वाधिक लोकप्रिय परिवहन प्रारूप है।
  2. यह लंबी दूरी तक स्थूल वस्तुओं को लाने-ले जाने के लिए सर्वाधिक उपयोगी है।
  3. यह परिवहन प्रारूप खनन क्षेत्रों से संयोजित मिलता है।

दोष:

  1. पथ निर्माण एवं कोच निर्माण में अत्यधिक पूँजी का व्यय होता है।
  2. इंजनों के संचालन में अत्यधिक खनिज तेल प्रयुक्त होता है।
  3. जिन देशों में एक पथे प्रारूप मिलता है, वहां दुर्घटनाओं में जन धन की हानि होती है।

प्रश्न 7.
जल परिवहन के गुण एवं दोषों का संक्षेप में वर्णन कीजिए।
उत्तर:
जल परिवहन के गुण एवं दोषों का विवरण निम्नानुसार है –

  1. इस परिवहन प्रारूप में मार्गों का निर्माण नहीं करना पड़ता जिससे पूँजी व्यय नहीं होता।
  2. अन्य परिवहन प्रारूपों की तुलना में शक्ति स्रोतों की खपत भी कम होती है।
  3. यह सर्वाधिक सस्ता परिवहन प्रारूप है।

दोष:

  1. सागरीय भागों में तृफानों एवं सुनामी के कारण दुर्घटनाओं का भय सदैव व्याप्त रहता है।
  2. तेल वाहक जलयानो की दुर्घटनाओं से सामुद्रिक जैव विविधता नष्ट हो जाती है।
  3. जलयान संचालन से सामुद्रिक वनस्पति के नष्ट होने के साथ-साथ सामुद्रिक जीवों की प्रजनन प्रक्रिया पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।

प्रश्न 8.
वायु परिवहन के दोषों को विवेचित कीजिए।
उत्तर:
वायु परिवहन के दोष निम्नानुसार है –

  1. यह सर्वाधिक महँगा परिवहन प्रारूप है।
  2. यह परिवहन प्रारूप आम जन हेतु उपलब्ध नहीं हो सकता क्योंकि आर्थिक स्थिति कमजोर होती है।
  3. खराब मौसम एवं तकनीकी कमियों के कारण वायुयानों के दुर्घटनाग्रस्त होने का भय बना रहता है।
  4. आधुनिक वायु प्रणाली युद्धक प्रक्रियाओं में मानवीय विनाश हेतु प्रमुख भूमिका निभाती है।
  5. सर्वाधिक मात्रा में ध्वनि प्रदूषण होता है।

प्रश्न 9.
साइबर स्पेस (इंटरनेट) के लाभों पी उपयोगिता का विवेचन कीजिए।
उत्तर:

  1. यह सम्पूर्ण विश्व की सूचनाओं का संकलन स्थल है।
  2. इसे सर्वाधिक लोगों द्वारा प्रयुक्त किया जाता है।
  3. यह आधुनिक संचार की प्रक्रिया है।
  4. इसके माध्यम से एक ही स्थान पर बैठे हुए होने पर भी विश्व की सभी सूचनाएँ प्राप्त की जा सकती हैं।
  5. यह वित्त एवं शिक्षा के कार्यों को सम्पन्न करने का त्वरित साधन है।

RBSE Class 12 Geography Chapter 10 निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
विश्व के प्रमुख पारमहाद्वीपीय रेलमार्गों का संक्षिप्त सचित्र विवरण दीजिए।
उत्तर:
विश्व के प्रमुख पारमहाद्वीपीय रेलमार्ग निम्नलिखित हैं –

  1. ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग।
  2. कैनेडियन पैसिफिकं रेलमार्ग।
  3. उत्तरी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।
  4. मध्य अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।
  5. दक्षिणी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।
  6. आस्ट्रेलियन अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग।

1. ट्रांस-साइबेरियन रेलमार्ग:
रूस का यह रेलमार्ग विश्व का सबसे लम्बा 9560 किमी दोहरा विद्युतीकृत रेलमार्ग है जो पश्चिम में बाल्टिक सागर के तट पर स्थित लेनिनग्राद (सेंट पीट्र्सबर्ग) से पूर्व में प्रशान्त महासागरीय तट पर स्थित ब्लाडीवोस्टक तक (मॉस्को, कजॉन, ट्यूमिन, नोबोसिविस्र्क व खबरोवस्क होता हुआ) जाता है। यह रेलमार्ग एशियाई क्षेत्रों को पश्चिमी-यूरोपियन बाजारों से जोड़ती है। इस रेलमार्ग में दक्षिण से जोड़ने वाले योजक रेलमार्ग हैं।

यह रेलमार्ग रूस के राजधानी नगर व औद्योगिक नगर मास्को से गुजरता है जहाँ से टूला नगर होते हुए वोल्गा नदी पर स्थित कुइविशेव तथा यूराल पर्वतीय क्षेत्र में स्थित चिलियाविन्सक होते हुए पूर्व में विस्तृत स्टेपी मैदान में स्थित ओमस्क तथा चिता नगरों से होता हुआ ब्लाडीवोस्टक तक जाता है। इस रेलमार्ग के निर्माण से आर्थिक रूप से पिछड़े साइबेरिया क्षेत्र का तीव्र विकास सम्भव हुआ है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-8
2. कैनेडियन-पैसिफिक रेलमार्ग:
इस रेलमार्ग का निर्माण सन् 1886 में किया गया। कनाडा देश का यह रेलमार्ग संयुक्त राज्य अमेरिका की सीमा के समानान्तर तथा निकट से अटलांटिक तट को प्रशान्त तट से जोड़ता है। यह रेलमार्ग 7050 किमी लम्बा है तथा पूर्व में हैलीफैक्स से प्रारम्भ होकर मांट्रियल, ओटावा, विनिपेग तथा कैलगैरी होता हुआ, पश्चिम में प्रशान्त तट पर स्थित बैंकूवर तक जाता है। इस रेलमार्ग द्वारा एक रेलमार्ग क्यूबेक-मांट्रियल औद्योगिक प्रदेश से प्रेयरी प्रदेश की गेहूँ पेटी तक तथा अन्य रेलमार्ग उत्तर में शंकु वन प्रदेश तक जाता है। कनाडियन रेलमार्ग कनाडा पैसिफिक का सबसे महत्वपूर्ण रेलमार्ग है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-9
3. संयुक्त राज्य अमेरिका का उत्तरी-अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग:
संयुक्त राज्य अमेरिका का यह रेलमार्ग लगभग 6100 किमी लम्बा देश का सबसे लम्बा व महत्वपूर्ण रेलमार्ग है जो देश के उत्तरी भाग में अटलांटिक तट पर स्थित न्यूयार्क नगर से प्रारम्भ होकर शिकागो होता हुआ प्रशान्त महासागर के तटीय नगर सिएटल नगर तक जाता है। पिट्सबर्ग, सेंटपाल, विस्मार्क तथा विलिंग्स इस रेलमार्ग पर स्थित महत्वपूर्ण नगर हैं। इस रेलमार्ग से अनाज, लौह-इस्पात, मशीनें, माँस, फल तथा लकड़ी का परिवहन प्रमुख रूप से होता है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-10
4. संयुक्त राज्य अमेरिका का मध्य अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग:
यह रेलमार्ग न्यूयार्क नगर को प्रशान्त तटीय नगर सैनफ्रांसिस्को से जोड़ता है। न्यूयार्क से शिकागो तक यह रेलमार्ग उत्तरी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग के साथ-साथ चलता है। शिकागो के पश्चिम में इस रेलमार्ग पर पड़ने वाले प्रमुख नगरों में ओमाही, चेनी, साल्टलेक सिटी तथा सैक्रामेन्टो महत्वपूर्ण हैं।

5. संयुक्त राज्य अमेरिका का दक्षिणी अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग:
यह रेलमार्ग न्यूयार्क से मैक्सिको के खाड़ी तटीय नगर न्यू आर्लियन्स होता हुआ पश्चिम में प्रशान्त तटीय नगर लॉस एंजिल्स तक जाता है।

6. आस्ट्रेलियन अन्तर्महाद्वीपीय रेलमार्ग: आस्ट्रेलिया महाद्वीप के दक्षिणी भाग में विस्तृत यह रेलमार्ग पूर्व में सिडनी महानगर से दक्षिण-पश्चिम में स्थित पर्थ महानगर तक जाता है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-11

प्रश्न 2.
आन्तरिक जलमार्ग से क्या आशय है? विश्व के प्रमुख आन्तरिक जलमार्गों का संक्षेप में विवरण दीजिए।
उत्तर:
आन्तरिक जलमार्ग-स्थलीय भागों में स्थित नदियों तथा झीलों से होकर जाने वाले मार्ग आन्तरिक जलमार्ग कहलाते हैं।
विश्व के प्रमुख आन्तरिक जलमार्ग:
यूरोप के प्रमुख आन्तरिक जलमार्ग:
यूरोप महाद्वीप के उत्तर-पश्चिम में विस्तृत अटलांटिक महासागर तथा दक्षिण में भूमध्यसागर में गिरने वाली प्रमुख नदियों में आन्तरिक जलमार्गों द्वारा परिवहन की सुविधा उपलब्ध है। इनमें उत्तर की ओर प्रवाहित राइन, सीन वे पो नदियाँ तथा दक्षिण की ओर प्रवाहित डेन्यूब, डोन, नीपर व नीस्टर नदियों में आन्तरिक जल परिवहन की सुविधा उपलब्ध है। इसके अलावा कैस्पियन सागर में गिरने वाली वोल्गा नदी के निचले भागों में भी जल परिवहन होता है। लेकिन इनमें जर्मनी तथा नीदरलैण्ड में प्रवाहित राइन नदी सर्वप्रमुख है। राइन नदी जलमार्ग विश्व को व्यस्ततम जलमार्ग है जो कोयला सम्पन्न औद्योगिक क्षेत्र से होकर गुजरती है।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-12
उत्तरी अमेरिका के आन्तरिक जलमार्ग:
संयुक्त राज्य अमेरिका तथा कनाडा देशों के मध्य स्थित महान झील क्षेत्र (सुपीरियर, मिशिगन, हारून तथा इरी झील) से होकर सेण्ट लारेन्स नदी के मुहाने तक जल परिवहन की उत्तम सुविधा उपलब्ध है। संयुक्त राज्य अमेरिका में मिसीसिपी, मिसौरी तथा ओहियो नदियों तथा कनाडा में सस्केचवान, मेकेन्जी तथा ओटावा नदियों में जल परिवहन की सुविधा प्राप्त है।

एशिया के आन्तरिक जलमार्ग:
चीन में ह्वांगहो, यांगटिसीक्यांग तथा सीक्यांग नदियों में जल परिवहन की सुविधाएँ उपलब्ध हैं। ह्वांगहो नदी अपने मुहाने से 200 किमी ऊपर तक यांगटिसीक्यांग नदी अपने मुहाने पर स्थित शंघाई नगर से क्यूकियाँग नगर तक तथा सीक्यांग नदी का एक बड़ा भाग नौगम्य है। भारत में गंगा नदी का इलाहाबाद से लेकर हल्दिया तक का भाग भी नौगम्य है।

दक्षिणी अमेरिका के आन्तरिक जलमार्ग:
उत्तरी ब्राजील में अमेजन नदी अपनी सहायक नदियों के साथ लगभग 3,000 किमी लम्बाई में नौगम्य है जबकि दक्षिणी ब्राजील, अर्जेन्टाइना तथा यूरुग्वे देशों में पराना, पराग्वे तथा प्लाटा नदियों में मुहाने से लगभग 1500 मीटर अन्दर तक परिवहन सुविधा उपलब्ध है।

अन्य: अफ्रीका में नाइजर तथा कांगो नदियों के मुहाने से लेकर लगभग 1100 किमी अन्दर तक तथा आस्ट्रेलिया में मरें व डार्लिंग नदियों के मुहाने से लेकर 1500 किमी अन्दर तक के नदी मार्ग नौगम्य हैं।

प्रश्न 3.
विश्व के प्रमुख महासागरीय जलमार्गों का विवरण संक्षेप के दीजिए।
उत्तर:
विश्व के प्रमुख महासागरीय जलमार्ग निम्नलिखित हैं –

1. उत्तरी अटलांटिक समुद्री मार्ग:
यह समुद्री मार्ग औद्योगिक दृष्टि से सम्पन्न उत्तरी-पूर्वी संयुक्त राज्य अमेरिका तथा पश्चिमी यूरोप को जोड़ता है। यह विश्व का सर्वाधिक व्यस्ततम समुद्री मार्ग है जिससे विश्व के कुल विदेशी व्यापार का लगभग एक-चौथाई भाग परिवहित किया जाता है। विश्व के 50 वृहत् समुद्री पत्तनों में से 30 समुद्री पत्तन इसी सागरीय मार्ग पर हैं।

2. भूमध्य सागर-हिन्द महासागरीय समुद्री मार्ग:
यह व्यापारिक समुद्री मार्ग औद्योगिक पश्चिमी यूरोप को भूमध्ये सागर, लाल सागर तथा हिन्द महासागर के माध्यम से पूर्वी अफ्रीका, दक्षिणी अफ्रीका, दक्षिणी एशिया, आस्ट्रेलिया तथा न्यूजीलैण्ड से जोड़ता है। यह सागरीय मार्ग प्राचीन विश्व के हृदय स्थल क्षेत्रों से होकर गुजरता है।

यह सर्वाधिक जनसंख्या तथा सर्वाधिक देशों को सागरीय परिवहन प्रदान करने वाला समुद्री मार्ग है। पोर्ट सईद, अदन, मुम्बई, कोलम्बो तथा सिंगापुर इस समुद्री मार्ग के महत्त्वपूर्ण पत्तन्न हैं। उत्तमाशा अन्तरीप से होकर जाने वाले प्रारम्भिक मार्ग की तुलना में स्वेज नहर के निर्माण से इस सागरीय मार्ग पर परिवहन दूरी (6400 किमी) तथा परिवहन समय में उल्लेखनीय कमी आई है।

3. उत्तमाशा अंतरीप समुद्री मार्ग:
यह सागरीय मार्ग पश्चिमी यूरोप व पश्चिमी अफ्रीकी देशों को दक्षिणी अमेरिका के ब्राजील, अर्जेन्टाइनी व युरुग्वे नामक देशों से अटलांटिक सागर से होकर मिलाता है। इस सागरीय मार्ग पर यातायात उत्तरी अटलांटिक सागरीय मार्ग की तुलना में बहुत कम है। सागरीय मार्ग में जलयानों को ईंधन प्रदान करने वाले बन्दरगाहों में केपटाउन, पोर्ट एलिजाबेथ, एडिलेड, मेलबोर्न तथा सिडनी सर्वप्रमुख हैं।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-13
4. पनामा नहर मार्ग: पनामा नहर पश्चिम में प्रशान्त महासागर को पूर्व में विस्तृत अटलांटिक महासागर से जोड़ती है। इस नहर मार्ग से होकर न्यूयार्क से सेनफ्रांसिस्को नगर को जाने वाले जलयानों को हार्न अंतरीप मार्ग की तुलना में 13000 किमी दूरी कम तय करनी पड़ती है।

5. प्रशान्त महासागरीय मार्ग: यह सागरीय मार्ग उत्तरी अमेरिका के पश्चिमी तटों पर स्थित पत्तनों (लॉस एंजिल्स, सेनफ्रांसिस्को, सिएटल, पोर्ट लैण्ड, बैंकूवर तथा प्रिन्स रूपर्ट) उत्तरी प्रशान्त महासागर के मध्य स्थित हवाई द्वीप के होनोलुलू पत्तन तक जाता है जहाँ से यह जलमार्ग दो भागों में विस्तृत हो जाता है –

  • उत्तरी मार्ग-यह जलमार्ग जापान, चीन, फिलीपिन्स तथा इण्डोनेशिया को जाता है।
  • दक्षिणी मार्ग-इस जलमार्ग से जलयान आस्ट्रेलिया तथा न्यूजीलैण्ड तक जाते हैं।

6. कैरीबियन खाड़ी सागरीय मार्ग: यह लघु दूरी का सागरीय मार्ग है जो मैक्सिको की खाड़ी तथा कैरीबियन खाड़ी के बन्दरगाहों को जोड़ता है। इस सागरीय मार्ग से पनामा नहर से होकर कैरीबियन सागर के तटीय देशों, मैक्सिको की खाड़ी तटीय देशों, मैक्सिको तथा संयुक्त राज्य अमेरिका के मध्य सागरीय परिवहन सम्पन्न होता है।

7. दक्षिणी अटलांटिक सागरीय मार्ग: इस सागरीय मार्ग से जलयान दक्षिणी अमेरिका के पूर्वी तटीय नगर रिया-डि-जेनेरो से केपटाउन होते हुए पूर्वी अफ्रीका, दक्षिणी एशिया तथा आस्ट्रेलिया तक जाते हैं। सैन्टोस, मान्टीविडियो, ब्यूनस-आयर्स तथा वाहिया ब्लॉका दक्षिणी अमेरिका के पूर्वी तटीय भाग पर स्थित इस सागरीय मार्ग के अन्य प्रमुख बन्दरगाह हैं।

प्रश्न 4.
विश्व के महाद्वीपों में मिलने वाले हवाई अड्डों का नाम लिखते हुए मानचित्र में उनकी स्थिति दर्शाइये।
उत्तर:
विश्व में महाद्वीपों के अनुसार प्रमुख हवाई अड्डे इस प्रकार हैं-उत्तरी अमेरिका में न्यूयार्क, न्यूआलियन्स, शिकागो, सैनफ्रांसिस्को, लॉस एंजिल्स (स. रा. अ) माँट्रियल, ओटावा (कनाडा) और मैक्सिको सिटी आदि, दक्षिण अमेरिका में रिया-डी-जेनेरो, ब्यूनस आयर्स, सेन्टियागो आदि, यूरोप में-लन्दन, पेरिस, बर्लिन, रोम, मास्को आदि एशिया में टोक्यो, शंघाई, बीजिंग, बैंकॉक, सिंगापुर, जकार्ता, रंगून, कोलकाता, मुम्बई, दिल्ली, चेन्नई, कराँची, कोलम्बो आदि, अफ्रीका में केपटाउन, अदिस-अबाबा, नैरोबी, काहिरा आदि और आस्ट्रेलिया में सिडनी, मेलबोर्न, पर्थ, कैनबरा आदि। विश्व में मिलने वाले हवाई अड्डों का मानचित्र द्वारा प्रदर्शन –
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-14
प्रश्न 5.
विश्व की प्रमुख पाइपलाइनों की संक्षिप्त विवेचना कीजिए।
उत्तर:
विश्व की प्रमुख पाइपलाइनें निम्नलिखित हैं –

  1. बिग इंच पाइपलाइन: इस पाइपलाइन से मैक्सिको की खाड़ी के तटीय कुँओं का खनिज तेल संयुक्त राज्य अमेरिका के उत्तरी-पूर्वी राज्यों तक पहुँचाया जाता है।
  2. टैप लाइन: यह तेल पाइपलाइन फारस की खाड़ी के कुँओं से उत्पादित खनिज तेल को भूमध्य सागर के तट पर लेबनान राष्ट्र के सिडान नगर तक ले जाती है। इस पाइपलाइन की लम्बाई 1600 किमी से अधिक है।
  3. ओ.आई.एल. पाइपलाइन: 1157 किमी लम्बी यह ऑयल इण्डिया लि. की पाइपलाइन असम के नाहरकटिया तेल क्षेत्र से बरौनी तेल शोधनशाला तक जाती है। सन् 1966 में इस तेल पाइपलाइन को कानपुर तक विस्तारित कर दिया गया।
  4. कॉमेकॉन पाइपलाइन: इस तेल पाइपलाइन के माध्यम से पूर्व सोवियत संघ में स्थित वोल्गा तथा यूराल क्षेत्र के तेल कुंओं से खनिज तेल पूर्वी यूरोपियन राष्ट्रों तक पहुँचाया जाता है।
  5. एच.वी.जे. (HVJ) पाइपलाइन: भारत में गैस अथारिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड द्वारा हजीरा-विजयपुरजगदीशपुर नाम से 1750 किमी लम्बी गैस पाइपलाइन का निर्माण किया गया। एक अन्य 1256 किमी लम्बी खनिज तेल पाइपलाइन गुजरात के सलाया से उत्तर प्रदेश के मथुरा तक बिछायी गई है।
  6. तापी (TAPI) परियोजना: 3 दिसम्बर, 2015 को ऐतिहासिक सिल्क मार्ग से जुड़ी तुर्कमेनिस्तान, अफगानिस्तान, पाकिस्तान तथा भारत (TAPI) गैस पाइपलाइन का शुभारम्भ किया गया। 1814 किमी लम्बी इस गैस पाइपलाइन के सन् 2019 तक पूरा होने की आशा है। यह प्रस्तावित गैस पाइपलाइन तुर्कमेनिस्तान के गलकीनाइश नगर से प्रारम्भ होकर अफगानिस्तान के कंधार तथा पाकिस्तान के मुल्तान नगर से होती हुई भारत में फाजिल्का नगर तक पहुंचेगी।

मानचित्र सम्बन्धी प्रश्न

प्रश्न 1.
दिए गए रेखा मानचित्र का अध्ययन कर निम्नलिखित प्रश्नों का उत्तर दीजिए –
(i) मानचित्र में दर्शाए गए रेलमार्ग का नाम बताइए।
(ii) इस रेलमार्ग के प्रारम्भिक व अन्तिम स्टेशन का नाम लिखिए।
(iii) इस रेलमार्ग द्वारा मिलाए गए दो समुद्री तटों के नाम लिखिए।
(iv) यह रेलमार्ग किस देश में है?
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-15
उत्तर:
1. पार: साइबेरियन रेलमार्ग
2. प्रारम्भिक स्टेशन: सेंट पीट्सबर्ग अन्तिम स्टेशन-ब्लाडिवोस्टक
3. बाल्टिक सागर और प्रशान्त महासागर
4. रूस।

प्रश्न 2.
नीचे दिए गए रेखा मानचित्र का अध्ययन कर पूछे गये प्रश्नों का उत्तर दीजिए –
(i) इस मानचित्र में दर्शाई गई रेलवे लाइन का नाम बताइए।
(ii) इस रेलमार्ग द्वारा मिलाए गए दो समुद्र तटों का नाम लिखिए।
(iii) इस रेलमार्ग के प्रारम्भिक एवं अन्तिम स्टेशन का नाम लिखिए।
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-16
उत्तर:
1. पार: कैनेडियन रेल लाइन
2. प्रशान्त महासागर और अटलांटिक महासागर
3. प्रारम्भिक स्टेशन- हैलीफैक्स, अन्तिम-बैंकूवर।

प्रश्न 3.
नीचे दिए गए रेखा मानचित्र में निम्नांकित को उचित चिह्नों द्वारा दर्शाइएआस्ट्रेलियाई पार महाद्वीपीय रेलमार्ग (प्रारम्भिक व अन्तिम स्थान के नाम अंकित करें)
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-17
प्रारम्भिक स्थान-पर्थ, अन्तिम स्थान-मेलबोर्न।

प्रश्न 4.
विश्व के दिए गए रेखा मानचित्र में निम्न समुद्री पत्तनों को अंकित कीजिए –
(i) मुम्बई
(ii) मेलबोर्न
(iii) लंदन
(iv) न्यूयार्क
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-18
नोट: विद्यार्थी इस मानचित्र की सहायता से अन्य समुद्री पत्तनों को भी मानचित्र में अंकित करने का अभ्यास करें।

प्रश्न 5.
विश्व के दिए गए रेखा मानचित्र में निम्न हवाई पत्तनों को अंकित कीजिए –
(i) केपटाउन
(ii) नई दिल्ली
(iii) टोक्यो
(iv) पर्थ।
उत्तर:
RBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहनRBSE Solutions for Class 12 Geography Chapter 10 विश्व: परिवहन एवं संचार img-19 एवं संचार
नोट: विद्यार्थी इस मानचित्र की सहायता से अन्य हवाई पत्तनों को भी अंकित करने का अभ्यास करें।

All Chapter RBSE Solutions For Class 12 Geography

—————————————————————————–

All Subject RBSE Solutions For Class 12

*************************************************

————————————————————

All Chapter RBSE Solutions For Class 12 Geography Hindi Medium

All Subject RBSE Solutions For Class 12 Hindi Medium

Remark:

हम उम्मीद रखते है कि यह RBSE Class 12 Geography Solutions in Hindi आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है |

यदि इन solutions से आपको हेल्प मिली हो तो आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर कर सकते है और HindiLearning.in को सोशल मीडिया में शेयर कर सकते है, जिससे हमारा मोटिवेशन बढ़ेगा और हम आप लोगो के लिए ऐसे ही और मैटेरियल अपलोड कर पाएंगे |

आपके भविष्य के लिए शुभकामनाएं!!

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *