Colours Name in Hindi

Colours Name in Hindi and English – रंगों के नाम हिंदी में

Colours Name in Hindi: रंग को हम इंग्लिश मे कलर्स कहते है।रंग हमारे जीवन में बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। वैसे तो कहा जाता है दुनिया की सारी चीजें दो चीजों से मिलकर बनी है- एक है रंग, दूसरा है तरंग। ग्रह- नक्षत्र और अन्य सभी उपाय इन्हीं रंगों और तरंगों पर आधारित होते हैं।रंगो की उत्पति का प्राकृतिक स्तोत्र सूर्य का प्रकाश है।भारतीय संस्कृति मे सभी त्यौहार रंग-बिरंगे होते है,होली तो है ही रंगो का त्यौहार। उस दिन एक-दूसरे पर रंग लगाने की धूम मची होती है।

ऐसा नहीं है कि हमें केवल रंग देखने की आदत भर है बल्कि इन रंगों का जीवन पर भी अच्छा खासा प्रभाव पड़ता है। जिस भी रंग के आसपास हम अधिक रहते हैं उसके स्वभाव के कई गुण हम अपने भीतर ले लेते हैं। रंगों का हमारे स्वास्थ्य पर भी प्रभाव होता है। हम रोज ही न जाने कितने रंगों को देखते हैं, पहनते हैं, खाते हैं, पर इसका असर हमारी जिंदगी में कितना गहरा होता है यह महसूस नहीं करते।

चलिए जानते हैं फास्ट फूड कंपनियां ज्यादातर लाल, पीले और नारंगी रंगों का ही प्रयोग क्यों करती है। कभी सोचा आपने…. नहीं ना। शोध के अनुसार यह रंग देखकर भूख लगने लगती है और जिन्हें भूख लग रही होती है उनकी और बढ़ जाती है|

Colours Name in Hindi

प्रकृति स्वयं भी रंगों से सरोबार है। हम चाहे ना चाहे फिर भी रंगों के भीतर छुपी ऊर्जा को हम ग्रहण करते रहते हैं। जानकारों की माने जब हम रंगों से भरी प्लेट मतलब खाने मे जितने ज्यादा रंगों वाली सब्जियां,फल होंगे,हम उतने ही स्वस्थ रहेंगे। रंगीन फलों और सब्जियों में ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो कई बीमारियों से बचाते हैं और साथ ही लंबी उम्र का वरदान भी देते हैं।

List of Colours Name in Hindi

Colours ImageColours Name in HindiColours Name in English
red colourलालRed
blackकालाBlack
blue colourनीलाBlue
WhiteसफेदWhite
yellow colourपीलाYellow
Aquaपानी रंगAqua
olive colourजैतून रंगOlive
lime colourनींबू रंगLime
Purple colourबैंगनीPurple
Teal colourहरे रंग की छायादारTeal
Navy colourगहरा नीलाNavy
khaki colourखाकीkhaki
bisque colourबिस्क रंगBisque
orchid colourआर्किड रंगOrchid
plum colourबेर रंगPlum
thistle colourथीस्ल रंगThistle
chartreuse colourहल्का हरे सेब जैसा रंगChartreuse
gold colourसुनहराGold
orange colourनारंगीOrange
dark salmon colourगहरा नारंगीDark Salmon
coral colourकोरल रंगCoral
pink colourगुलाबीPink
deep pink colourगहरा गुलाबीDeep Pink
blue violet colourनीला बेंगनीBlue Violet
light yellow colourहल्का पीलाLight Yellow
cadet blue colourकैडेट ब्लूCadet Blue
spring green colourस्प्रिंग हराSpring Green
forest green colourफारेस्ट हराForest Green
orange red colourऑरेंज लालOrange Red
hot pink colourचटक गुलाबीHot Pink
crimson colourगहरा लालCrimson
steelblue colourइस्पात नीलाSteelblue
apricot colourखुबानीApricot
honeydew colourखरबूज़ा रंगHoneydew
ivory colourहाथी दांत रंगIvory
snow colourबर्फ रंगSnow
azure colourआकाश के समान नीलाAzure
tan colourतेन रंगTan
corn silk colourमकई के भुट्टे के बाल की तरह का रंगCorn Silk
Silver colourचांदी जैसा रंगSilver
Magenta colourगहरा गुलाबी रंगMagenta
Maroon colourभूरा लाल रंगMaroon
Gray colourस्लेटीGray
green colourहराGreen
emerald colourपन्ना रंगEmerald
avocado colourएवोकाडो रंगAvocado
Mystic colourमिस्टिकMystic
Flamingo colourआग की लपट का रंगFlamingo
Salomie colourसैलोमीSalomie
slate gray colourतखती स्लेटीSlate Gray
peach puff colourआडू़ रंगPeach Puff
rosy brown colourगुलाबी ब्राउनRosy Brown
burly wood colourस्थूल लकड़ीBurly Wood
chocolate colourचॉकलेटChocolate
indigo colourजामुनीIndigo

रंगों को देखने और खाने के साथ पहनते भी है कैसे? हम अलग-अलग अवसरों पर भिन्न-भिन्न प्रकार के कलर के कपड़े पहनते हैं।
खुशी के अवसर पर लाल, हरे इत्यादि चमकीले रंग के कपड़े पहनते हैं। दुख या शोक के समय सफेद या काले रंग के कपड़े पहनते हैं। बैंक किया कॉरपोरेट सेक्टर के लिए हल्के हरे, ग्रे ,क्रीम या हल्के पीले रंग के कपड़े को शुभ माना गया है। प्रशासनिक सेवा के लिए हल्के नीले या सफेद रंग की शर्ट को अच्छा माना गया है।

एक तरह से रंग मनुष्य के चरित्र को दर्शाता है।रंग अथवा वर्ण का हमारे जीवन में बहुत महत्व है। रंगों से हमें विभिन्न स्थितियों का पता चलता है। वैसे तो इंद्रधनुष के सात रंगों को ही रंगों का जनक माना गया है। यह सात रंग है लाल, नारंगी, पीला, हरा, आसमानी, नीला और बैंगनी रंग।

12 कलर्स कौन से होते है व इन्हे हिन्दी व इंग्लिश मे क्या कहते है जानते है।

10 Colours Name in Hindi

1-लाल -Red(रेड)
2-हरा-Green(ग्रीन
3- गुलाबी- Pink(पिंक)
4- भूरा- Brown(ब्राउन)
5-सफेद- White (वाईट)
6- काला- Black (ब्लैक)
7-पीला- Yellow( येलो)
8-नीला- Blue (ब्लू)
9-बैंगनी- Purple (पर्पल)
10- नारंगी- Orange (आरेंज)
11-धुमैला- Grey (ग्रे)
12-सुनहरा- Golden (गोल्डन)

मूल रंग पाँच ही होते है।लाल, पीला और नीला प्राथमिक रंग है। ये तीनों रंग अन्य रंगों का आधार हैं और इनसे अन्य रंग भी बनाये जा सकते हैं। दो प्राथमिक रंगों को बराबर मात्रा में मिलाकर बनने वाले रंगों को द्वितीयक रंग कहते हैं। ये रंग नारंगी, हरा और बैंगनी हैं। प्राथमिक रंग और द्वितीयक रंग को मिलाकर बनने वाले रंग को तृतीयक रंग कहते है।लाल-बैंगनी, पीला-हरा,नीला- नारंगी आदि तृतीयक रंग है।
आइए कुछ रंगो को हम विस्तार पूर्वक जानते है।

लाल(Red):❤️

लाल रंग उत्साह, सौभाग्य, उमंग,साहस के साथ-साथ उग्रता का भी प्रतीक है। हिंदू धर्म में लाल रंग को सौभाग्य का प्रतीक माना गया है। आज भी दुल्हन शादी का जोड़ा लाल रंग का ही पहनती है।नवविवाहिता अपने हाथो मे लाल चूडिया एवं मांग मे लाल सिन्दूर अवश्य लगाती है।

घर में किसी भी शुभ कार्य करने से पहले लाल रंग का ही इस्तेमाल किया जाता है जैसे कुमकुम, मौली आदि। लाल रंग मां लक्ष्मी को भी पसंद है।मां लक्ष्मी के वस्त्र और उनका आसन लाल कमल का फूल है। लाल रंग का संबंध सीधे सूर्य ग्रह और मंगल ग्रह से है। इसलिए लाल रंग में दोनों ही के गुण पाए जाते हैं।

हरा रंग (Green):💚

हरा रंग सुहाग, संपन्नता और शीतलता का प्रतीक है। प्रकृति का रंग भी हरा ही होता है। चारों और हरियाली ही हरियाली देखने से मन शांत होता है, आनंदित होता है। कोई भी धार्मिक कार्य हरे रंग की पत्तियों या सामान बिना पूरा नहीं होता है अर्थात हरा रंग हमे प्रकृति से जुडे रहने की प्रेरणा देता है। हरा रंग सकारात्मक ऊर्जा देता है और तनाव और डिप्रेशन से बचाता है।

हरा रंग बीमार व्यक्तियों के लिए जीवनदायिनी जैसा है इसीलिए अस्पतालों में ज्यादा हरे रंग का उपयोग होता है। हम अपने घरों में भी पौधे लगाते हैं जिससे घर में एक नई ऊर्जा का संचार होता है। हरा रंग बुध ग्रह से संबंधित होता है।कुंडली मे बुध ग्रह व्यापार और कैरियर की स्थिति को दर्शाता है। बुध ग्रह को मजबूत बनाने के लिए हरे रंग के पन्ने को धारण करना चाहिए।

गुलाबी(Pink):💗

गुलाबी रंग ज्यादातर लड़कियों से जुड़ा हुआ रंग है इसलिए इसे स्त्री (Ladies) रंग भी कहते हैं।
गुलाबी रंग प्रेम और प्यार का प्रतीक भी है।हल्का गुलाबी रंग आंखो को शीतलता प्रदान करता है और वातावरण में ऊर्जा का संचार करता है।लाल और सफेद रंग को मिलाकर गुलाबी रंग बनाया जाता है।इसलिए गुलाबी रंग मे लाल रंग और सफेद रंग दोनो ही के गुण पाए जाते है। यह रंग हमें आत्मीयता देता है एवं परिवारजनों के बीच स्नेह बढ़ाता है।

गुलाबी रंग नाजुकता एवं शीतलता का प्रतीक है और लगभग सभी रंगों के साथ इस रंग का प्रयोग किया जाता है। वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की दीवारों पर गुलाबी रंग से सकारात्मक वातावरण का निर्माण होता है। मां लक्ष्मी का प्रतीक चिन्ह भी गुलाबी रंग का ही है। गुलाबी रंग गुस्सा और तनाव कम करता है।

नीला(Blue):💙

नीला रंग जल और आकाश का प्रतिनिधित्व करता है। इसमें जल और आकाश के सारे गुण समाहित होते हैं। नीला रंग बल, पौरुष, वीरभाव एवं शीतलता का प्रतीक होता है। यह रंग शनि ग्रह और राहु ग्रह से संबंधित है। भगवान श्री कृष्ण और भगवान शिव की आभा का रंग भी नीला है।इससे सम्मोहन और आकर्षण पैदा होता है। मानते हैं नीला रंग आत्मा का रंग है।

जब भी हम ध्यान करते हैं तो सिर की चोटी से पूरे शरीर में नीले रंग की रोशनी आ रही है। ऐसा ध्यान करने से सभी तरह के नकारात्मक विचार हमारे शरीर से दूर हो जाते हैं। शयन कक्ष में दीवारों का रंग नीला होता है तो नींद में आने वाली परेशानियां दूर हो जाती हैं। नीले रंग की फल और सब्जियां अपने आहार में शामिल करने से हृदय से संबंधित एवं कैंसर जैसी बीमारियों से बचा जा सकता है।

Also Read: जानवरो के नाम हिंदी में

भूरा (Brown):🤎

प्राथमिक रंग लाल, पीला और नीले कलर को मिलाकर भूरे कलर के कई प्रकार के शेड्स बनाए जा सकते हैं हल्का भूरा, गहरा भूरा। केतु ग्रह को सामान्यतः भूरे रंग का माना जाता है। हम अपने आसपास और प्रकृति में भूरे रंग की बहुतायत को देखते हैं। पेड़ों की टहनियों और तने का रंग भूरा ही होता है।

मिट्टी का रंग भूरा होता है तो भूरा रंग हमें प्रकृति से और जमीन से जुड़ने की सीख देता है। हम अपने घरों में भी भूरे रंग का इस्तेमाल करते हैं जैसे फर्नीचर का रंग, सोफे के ऊपरी कपडे का रंग। भूरे रंग का इस्तेमाल करने पर दूसरे हल्के रंग निखर के आते हैं।घर के दक्षिण-पश्चिम कमरे मे भूरे रंग का उपयोग करना चाहिए।

हमारे जीवन मे सभी रंगों का महत्व है। सभी रंग अपनी- अपनी उपस्थिति और उपयोगिता दर्ज कराते हैं। बिना रंगो के हम अपनी जिंदगी सोच भी नहीं सकते। आज हमने इस आर्टिकल में रंगों के बारे में जाना। उम्मीद है आपको यह जानकारी बहुत ही लाभकारी एवं फायदेमंद लगी होगी। आप इस जानकारी को दोस्तों एवं मित्रों के साथ जरूर शेयर करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published.