UP Board Solutions for Class 5 EVS Hamara Parivesh Chapter 11 भारत में अंग्रेजी राज की स्थापना

Class 5 EVS Hamara Parivesh Chapter 11:

भारत में अंग्रेजी राज की स्थापना अभ्यास

प्रश्न १.
रिक्त स्थानों को भरो (रिक्त स्थान भरकर) –
उत्तर:

  • भारत से व्यापार के लिए यूरोप के अनेक देशों से व्यापारी आए। सर्वप्रथम पुर्तगाल का जहाज व्यापार के लिए पश्चिमी तट पर पहुंचा।
  • भारत से व्यापार के लिए इंग्लैंड के व्यापारियों ने ईस्ट इंडिया नामक कंपनी बनाई।
  • व्यापारिक होड़ के कारण विदेशी व्यापारी आपस में लड़ते रहे।

प्रश्न २.
कारण बताओ –
प्रश्न.
अंग्रेजों ने भारतीय किसानों को नील की खेती करने के लिए मजबूर किया।
उत्तर:
क्योंकि अंग्रेजों को नील की जरूरत पड़ती थी।

प्रश्न.
अंग्रेजों ने अपनी फौजी ताकत को काफी मजबूत किया।
उत्तर:
जिससे वे भारतीय राजाओं को हराकर भारत पर राज कर सकें।

प्रश्न.
बंगाल के नवाब सिराजुद्दौला ने अंग्रेजों को कोलकाता किले से तोपें हटा देने का आदेश दिया।
उत्तर:
क्योंकि नवाब सिराजुद्दौला को अंग्रेजों का तोप व सिपाही रखना पसन्द नहीं था।

प्रश्न.
भारतीय बुनकर अंग्रेजी शासन में गरीब हो गए।
उत्तर:
क्योंकि अंग्रेजी शासन काल में बुनकरों को कपास मिलना बन्द हो गया और वे बेरोजगार हो गए।

प्रश्न.
देश के किसानों, बुनकरों तथा राजाओं-महाराजाओं ने अंग्रेजों का विरोध किया।
उत्तर:
क्योंकि अंग्रेजों ने अपने फायदे के लिए इन लोगों का अधिकार छीन लिया था।

प्रश्न ३.
प्रोजेक्टकार्य –
प्रश्न.
वे वस्तुएँ जिन्हें विदेशी भारत से अपने देश ले जाते थे।
उत्तर:
वे भारत से कपास, रेशम, नीम, कच्चा माल, लौह अयस्क अपने देश ले जाते थे।

प्रश्न.
भारत से व्यापार करनेवाले देशों के नाम।
उत्तर:
पुर्तगाल, हॉलैंड, फ्रांस और इंग्लैंड।

प्रश्न.
उन स्थानों के नाम जहाँ पर विदेशियों ने अपनी व्यापारिक कोठियाँ बनाई।
उत्तर:
विदेशियों ने अपनी व्यापारिक कोठियाँ सूरत, चेन्नई, कोलकाता, मुंबई, कोचीन, विशाखापत्तनम आदि स्थानों पर बनाई।

Class 5 EVS Hamara Parivesh Chapter 11 भारत में अंग्रेजी राज की स्थापना

All Chapter: UP Board Solutions for Class 5 EVS

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *