RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर

हेलो स्टूडेंट्स, यहां हमने राजस्थान बोर्ड Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर सॉल्यूशंस को दिया हैं। यह solutions स्टूडेंट के परीक्षा में बहुत सहायक होंगे | Student RBSE solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर pdf Download करे| RBSE solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर notes will help you.

Rajasthan Board RBSE Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर

RBSE Class 10 Information Technology Chapter 7 पाठ्यपुस्तक के प्रश्नोत्तर

RBSE Class 10 Information Technology Chapter 7 वस्तुनिष्ठ प्रश्ना

प्रश्न 1.
ई-कॉमर्स का मतलब है –
(अ) इलेक्ट्रिक वाणिज्य
(ब) इलेक्ट्रॉन वाणिज्य
(स) इलेक्ट्रॉनिक वाणिज्य
(द) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(स) इलेक्ट्रॉनिक वाणिज्य

प्रश्न 2.
जी 2 सी का मतलब है –
(अ) कन्ज्यूमर-से-गवर्नमेन्ट
(ब) गवर्नमेन्ट-से-बिजनेस
(स) गवर्नमेन्ट-से-कन्ज्यू मर
(द) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(स) गवर्नमेन्ट-से-कन्ज्यू मर

प्रश्न 3.
ईडीआई का मतलब है –
(अ) इलेक्ट्रॉनिक डाटा एक्सचेंज
(ब) इलेक्ट्रॉनिक डाटा इंटरनेट
(स) इलेक्ट्रॉनिक डाटा ट्रांसफर
(द) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(अ) इलेक्ट्रॉनिक डाटा एक्सचेंज

प्रश्न 4.
जो ई-कॉमर्स की सुविधा नहीं है –
(अ) 24 x 7 सर्विस
(ब) नकद भुगतान
(स) विपणन.
(द) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(ब) नकद भुगतान

RBSE Class 10 Information Technology Chapter 7 अतिलघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
ई-कॉमर्स को परिभाषित कीजिए।
उत्तर:
ई-कॉमर्स आधुनिक व्यापार की एक पद्धति है। जो व्यापार संगठनों, विक्रेताओं और ग्राहकों की जरूरत को कम लागत करने और माल एवं सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार करना है।

प्रश्न 2.
ई-मेल का पूरा नाम क्या है ?
उत्तर:
इलेक्ट्रॉनिक मेल (E-mail)

प्रश्न 3.
बी-2-बी का पूरा नाम क्या है ?
उत्तर:
बिजनेस-टू-बिजनेस।

प्रश्न 4.
जी-2-बी का पूरा नाम क्या है ?
उत्तर:
गवर्नमेन्ट-से-बिजनेस।

RBSE Class 10 Information Technology Chapter 7 लघूत्तरात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
पारम्परिक व्यापार क्या है ?
उत्तर:
पारम्परिक व्यापार में मानक एवं प्रथाओं को बनाए रखना मुश्किल होटः है, इसमें संचार लेनदेन तरीके से किया जाता है। मैनुअल हस्तक्षेप प्रत्येक संचारं या लेन-देन के लिए आवश्यक है। यह व्यापार के संचार व्यक्तिगत कौशल पर निर्भर करता है।

प्रश्न 2.
इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण को परिभाषित कीजिए।
उत्तर:
इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण इलेक्ट्रॉनिक भुगतान विधि एक बैंक खाता से दूसरे बैंक खाते में धन हस्तांतरण करने के लिए यह एक बहुत लोकप्रिय तरीका है। खाता एक ही बैंक या अन्य बैंक में भी हो सकता है।निधि अंतरण एटीएम (ऑटोमेटेड टेलर मशीन) का उपयोग कर, या कम्प्यूटर का उपयोग करके किया जा सकता है। आजकल, इंटरनेट आधारित ई.एफ.टी. (EFT) लोकप्रिय है। इस स्थिति में, ग्राहक बैंक द्वारा प्रदान की। वेबसाइट का उपयोग करता है। ग्राहक बैंक की वेबसाइट पर लॉगिन करता है और बैंक खाता पंजीकृत करता है। वह उसके बाद उस खाते के लिए निश्चित राशि स्थानांतरित करने के लिए अनुरोध करता है। ग्राहक का बैंक अन्य खाते में राशि स्थानान्तरण अनुरोध ACH (ऑटोमेटेड क्लीयरिंग हाउस) अग्रेषित किया जाता है और ग्राहक के खाते से राशि काट ली जाती है। एक बार जब राशि अन्य खाते में स्थानांतरित हो जाती है, ग्राहक को बैंक द्वारा निधि अंतरण की सूचना दी जाती है।

प्रश्न 3.
ई-व्यापार में सरकार की भूमिका की व्याख्या कीजिए।
उत्तर:
ई-व्यापार में सरकार को कम कीमत और बेहतर तरीके से स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, सामाजिक सेवाओं जैसी सार्वजनिक सेवाओं को वितरित करने में मदद करती है।

प्रश्न 4.
ई-कॉमर्स में वस्तु सूची प्रबंधन समझाइये।
उत्तर:
ई-कॉमर्स के उपयोग से उत्पादों का सूची प्रबंधन स्वचालित हो जाता है। रिपोर्ट तुरन्त आवश्यकता पड़ने पर प्रस्तुत की जा सकती है। उत्पाद सूची प्रबंधन बहुत ही कुशल और आसान हो जाता है।

प्रश्न 5.
उपभोक्ताओं के लिए ई-कॉमर्स के लाभ बताइये।
उत्तर:
उपभोक्ताओं के लिए ई-कॉमर्स के लाभ –

  1. ग्राहक लेनदेन के लिए उत्पाद या किसी भी उत्पादक कम्पनी द्वारा किसी भी स्थान से किसी भी समय, कहीं भी उपलब्ध कराई गई सेवाओं के बारे में पूछताछ कर सकते हैं। यहाँ 24 x 7 का अभिप्राय सप्ताह के 7 दिन के पूरे 24 घंटों से है।
  2. ई-कॉमर्स अनुप्रयोग उपयोगकर्ता को जल्द डिलीवरी के अधिक विकल्प प्रदान करता है।
  3. ई-कॉमर्स अनुप्रयोग उपयोगकर्ता को अधिक विकल्पों की तुलना करने और सस्ते और बेहतर विकल्प का चयन प्रदान करता है।
  4. ग्राहक एक उत्पाद के बारे में समीक्षा टिप्पणी डाल सकते हैं और क्या दूसरा खरीद रहे हैं या एक अंतिम खरीद करने से पहले अन्य ग्राहकों की समीक्षा टिप्पणियाँ देख सकते हैं।
  5. ई-कॉमर्स आभासी नीलामी का विकल्प प्रदान करता
  6. एक ग्राहक दिन या सप्ताह के इंतजार के बजाय सेकंड के भीतर सम्बन्धित विस्तृत जानकारी देख सकते हैं।
  7. ई-कॉमर्स से संगठनों के बीच प्रतिस्पर्धा बढ़ जाती है और परिणाम के रूप में संगठनों ग्राहकों को भारी छूट प्रदान करता है।

प्रश्न 6.
समाज के लिए ई-कॉमर्स के लाभ बताइये।
उत्तर:
समाज के लिए ई-कॉमर्स के लाभ-ग्राहक को जरूरत की चीजों की खरीद-फरोख्त के लिए यात्रा नहीं करनी पड़ती जिससे वायु प्रदूषण कम होता है और सड़कों पर भी यातायात कम होता है। – ई-कॉमर्स से उत्पादों की लागत को कम करने में मदद मिलती है जिससे कम समृद्ध लोग भी उत्पाद खरीद सकते हैं।

RBSE Class 10 Information Technology Chapter 7 निबन्धात्मक प्रश्न

प्रश्न 1.
छोटे व्यवसाय के विभिन्न घटक समझाइये।
उत्तर:
छोटे व्यवसाय अपने लक्ष्य बाजार की आवश्यकताओं के लिए उत्पाद और सेवाएँ बनाता है। अपने विपणन लक्ष्य तक पहुँचने के लिए छोटे व्यवसाय के स्वामी योजना और रूपरेखा बनाते हैं कि कैसे वे वर्तमान ग्राहकों और संभावित ग्राहकों को अपने उत्पादों और सेवाओं के बारे में सूचित, शिक्षित करेंगे।

छोटे व्यवसाय के विभिन्न घटक –

(1) व्यापार का वर्णन – आपकी मार्केटिंग योजना का एक हिस्सा आपके संभावित ग्राहकों के लिए उत्पादों और सेवाओं का वर्णन करना होना चाहिए। आप अपने व्यापार का एक हिस्सा हैं जो उद्योग पर चर्चा और उद्योग के विकास से अधिक वर्षों, अपने बाजार में हिस्सेदारी और रुझान विपणन पर विवरण प्रदान कर सकते हैं।

(2) बाह्यरेखा लक्ष्य बाजार – इससे पहले कि आप अपने उत्पाद या सेवा विपणन शुरू करें, ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए अपने व्यापार के प्रकार को जानना होगा। अपने लक्ष्य बाजार की आयु, आय, शिक्षा स्तर, भौगोलिक स्थानीय, वैवाहिक स्थिति, जीवन शैली, शौक और रुचियों जैसी विशेषताएँ सूचीबद्ध करके रूपरेखा तैयार करनी होगी। इस जानकारी से अपने लक्षित ग्राहकों के लिए विपणन करने में मदद मिलेगी।

(3) प्रतियोगिता सूची – चाहे आप एक छोटे कैंडी की दुकान या एक ब्यूटी सैलून चलाते हैं, आप की संभावना प्रतियोगियों के उत्पाद और सेवा है। जो प्रतियोगिता के नाम से, चाहे वे ऑनलाइन या ऑफलाइन हो उत्पाद और सेवा प्रदान करते हैं, वे लक्ष्य और रणनीति को आकर्षित करने और ग्राहकों को बनाए रखने के लिए ग्राहकों के प्रकार की सूची का सही उपयोग करते हैं। आप अपनी विपणन रणनीति विकसित करने के लिए इस जानकारी की मदद ले सकते हैं।

प्रश्न 2.
ई-कॉमर्स की विभिन्न सुविधाओं के बारे में बताइये।
उत्तर:
ई-कॉमर्स निम्न सुविधाएँ प्रदान करता है –

  1. गैर-नकद भुगतान – ई-कॉमर्स बैंक की वेबसाइट और अन्य साधन के माध्यम से जैसे क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, स्मार्ट कार्ड, इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रांसफर के द्वारा भुगतान को सक्षम बनाता है।
  2. 24 x 7 सेवा की उपलब्धताई-कॉमर्स के द्वारा उद्यमों के द्वारा चलित सुविधाएँ एवं सेवाएँ, ग्राहकों के लिए किसी भी समय एवं कहीं से भी उपलब्ध है। यहाँ 24 x 7 का अभिप्राय सप्ताह के 7 दिन के पूरे 24 घंटों से है।
  3. विज्ञापन या विपणन – ई-कॉमर्स से उत्पादों और कारोबार की सेवाओं के विज्ञापन की पहुँच बढ़ जाती है। यह उत्पादों या सेवाओं के बेहतर विपणन प्रबंधन में मदद करता है।
  4. बिक्री में सुधार – ई-कॉमर्स, के उपयोग से उत्पादों के लिए आदेश किसी भी समय, कहीं से भी किसी भी मानवीय हस्तक्षेप के बिना उत्पन्न किये जा सकते हैं। इस तरह से, एक उत्पादन खरीदने के लिए निर्भरता बड़े पैमाने पर कम हो जाती है और बिक्री बढ़ जाती है।
  5. समर्थनई – कॉमर्स पूर्व बिक्री और बाद की बिक्री ग्राहकों को बेहतर सेवाएँ प्रदान करने के लिए सहायता प्रदान करने के लिए विभिन्न तरीके प्रदान करता है।
  6. सूची प्रबंधन – ई-कॉमर्स के उपयोग से उत्पादों का सूची प्रबंधन स्वचालित हो जाता है। रिपोर्ट तुरन्त आवश्यकता पड़ने पर प्रस्तुत की जा सकती है। उत्पाद सूची प्रबंधन बहुत ही कुशल और आसान हो जाता है।
  7. संचार में सुधार-ई-कॉमर्स ग्राहकों की भागीदारों के साथ तेजी से कुशल, विश्वसनीय संचार के लिए विभिन्न तरीके प्रदान करता है।

प्रश्न 3.
पारम्परिक और ई-व्यापार में अंतर समझाइये।
उत्तर:
पारम्परिक और ई-व्यापार में अंतर –
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 1
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 2

प्रश्न 4.
ई-कॉमर्स के विभिन्न व्यापार मॉडल समझाइए।
उत्तर:
ई-कॉमर्स के विभिन्न मॉडल को निम्नलिखित श्रेणियों में वर्गीकृत किया गया है
(1) बिजनेस – से – बिजनेस (बी 2 बी)
(2) बिजनेस – से – कन्ज्यूमर (बी 2 सी)
(3) कन्ज्यूमर – से – कन्ज्यू मर (सी 2 सी)
(4) कन्ज्यूमर – से – बिजनेस (सी 2 बी)
(5) बिजनेस – से – गवर्नमेन्ट (बी 2 जी)
(6) गवर्नमेन्ट – से – बिजनेस (जी 2 बी)
(7) गवर्नमेन्ट – से – सिटीजन (जी 2 सी)

(1) बिजनेस – से – बिजनेस (बी 2 बी) – बी 2 बी व्यापार मॉडल का पालन करने के लिए वेबसाइट एक मध्यवर्ती खरीदार को अपने उत्पाद बेचती है जो उसके अंतिम ग्राहक को उत्पाद बेचता है। एक उदाहरण के रूप में, एक थोक व्यापारी एक कंपनी की वेबसाइट से उत्पाद खरीदने के लिए आदेश देता है और उसे अंतिम ग्राहक जो थोक व्यापारी की दुकान में उत्पादन खरीदने के लिए आता है उसे बेचता है।
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 3

(2) बिजनेस – से – कन्ज्यूमर (बी 2 सी) – बी 2 सी व्यापार मॉडल में वेबसाइट एक ग्राहक को सीधे अपने उत्पाद बेचती है। एक ग्राहक व्यापार संगठन की वेबसाइट पर दिखाए गए उत्पादों को देख सकते हैं और किसी उत्पाद को चुन सकते हैं। वेबसाइट व्यापार संगठन के लिए एक अधिसूचना ई-मेल और संगठन के माध्यम से ग्राहक के लिए उत्पाद/माल भेज देंगे।
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 4

(3) कन्ज्यू मर – से – कन्ज्यूमर(सी 2 सी) – वेबसाइट सी 2 सी व्यापार मॉडल का पालन करने वाले उपभोक्ता को आवासीय संपत्ति, कारों, मोटरसाइकिलों आदि या कमरा किराए पर देने के लिए उनकी जानकारी वेबसाइट पर प्रकाशित करने में मदद करता है। वेबसाइट अपनी सेवाओं के लिए उपभोक्ता से इच्छानुसार शुल्क ले या नहीं ले सकती हैं।
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 5

(4) कन्ज्यूमर – से – बिजनेस (सी 2 बी) – इस मॉडल में एक उपभोक्ता वेबसाइट का प्रयोग एक विशेष सेवा के लिए एक से अधिक व्यवसाय संगठनों का दृष्टिकोण देखने के लिए कर सकता है। उपभोक्ता एक विशेष सेवा के लिए मात्रा का अनुमान देता है जिसे वो खर्च करना चाहता है। उदाहरण के लिए, व्यक्तिगत ऋण/कार ऋण की ब्याज दरों की तुलना वेबसाइट के माध्यम से विभिन्न बैंकों द्वारा प्रदान की गई है। व्यापार संगठन निर्दिष्ट बजट के भीतर उपभोक्ता की आवश्यकता और ग्राहक के दृष्टिकोण को देख कर सेवाएँ प्रदान करता है।
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 6

(5) बिजनेस – से – गवर्नमेन्ट (बी 2 जी) – बी 2 जी आदर्श बी 2 बी मॉडल का एक संस्करण है। ऐसी वेबसाइट विभिन्न व्यापार संगठनों के साथ व्यापार और विनिमय जानकारी करने के लिए सरकार द्वारा काम ली जाती है। ऐसी वेबसाइट सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त और सरकार को आवेदन पत्र प्रस्तुत करने के लिए व्यवसायों के लिए एक माध्यम प्रदान करती है।
RBSE Solutions for Class 10 Information Technology Chapter 7 ई-वाणिज्य या ई-व्यापर 7

All Chapter RBSE Solutions For Class 10 Information Technology Hindi Medium

All Subject RBSE Solutions For Class 10 Hindi Medium

Remark:

हम उम्मीद रखते है कि यह RBSE Class 10 Information Technology Solutions in Hindi आपकी स्टडी में उपयोगी साबित हुए होंगे | अगर आप लोगो को इससे रिलेटेड कोई भी किसी भी प्रकार का डॉउट हो तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूंछ सकते है |

यदि इन solutions से आपको हेल्प मिली हो तो आप इन्हे अपने Classmates & Friends के साथ शेयर कर सकते है और HindiLearning.in को सोशल मीडिया में शेयर कर सकते है, जिससे हमारा मोटिवेशन बढ़ेगा और हम आप लोगो के लिए ऐसे ही और मैटेरियल अपलोड कर पाएंगे |

आपके भविष्य के लिए शुभकामनाएं!!

Leave a Comment

Your email address will not be published.